क्रिकेट मैदान पर 'मिस्टर 360 डिग्री' के नाम से मशहूर एबी डिविलियर्स ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास ले लिया है. इस दक्षिण अफ़्रीकी क्रिकेटर ने बुधवार को उसी मैदान से अपने सन्यास की घोषणा की, जहां से अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की शुरुआत की थी. एबी ने अपने देश के लिए 14 साल क्रिकेट खेला. इस दौरान उनका सफ़र बेहद शानदार रहा. क्रिकेट के इस जेंटलमैन ने वो सारे रिकार्ड्स अपने नाम किये जो आज तक कोई भी बल्लेबाज़ नहीं कर पाया था. इन 14 सालों में उन्होंने दुनियाभर के क्रिकेट फ़ैंस का ख़ूब मनोरंजन किया. फ़ैंस एबी के 360 डिग्री शॉट्स को तो हमेशा याद करेंगे ही, लेकिन उससे ज़्यादा मैदान पर एक जेंटलमैन को ज़रूर मिस करेंगे.

ये 10 बातें जो एबी डिविलियर्स न सिर्फ़ एक महान बल्कि जेंटलमैन क्रिकेटर भी बनाती हैं:

1. क्रिकेट के प्रति उनका प्यार और हर समय कुछ न कुछ सीखने का जुनून.

Source: espncricinfo

एबी डिविलियर्स ने जब अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत की थी, तो वो भी अन्य खिलाड़ियों की तरह ही थे. लेकिन एबी ने धीरे-धीरे ख़ुद को क्रिकेट के प्रति इतना समर्पित कर दिया कि आज हम उन्हें 'मिस्टर 360 डिग्री' के नाम से जानने लगे हैं. मैदान का ऐसा कोई कोना नहीं बचा होगा जहां उन्होंने शॉट्स न मारे हों. पिछले 14 सालों में डिविलियर्स ने ख़ुद को अन्य खिलाड़ियों से एकदम अलग साबित किया है.

2. क्रिकेट का सुपरस्टार बनने के बाद भी एक आम इंसान की तरह जीते हैं.

एबी डिविलियर्स इस समय दुनिया के सबसे बेहतरीन और पॉपुलर क्रिकेटर हैं. पूरी दुनिया में उनके करोड़ों फ़ैंस हैं. दौलत-शौहरत सब कुछ होने के बावजूद एबी आज भी एक आम इंसान की तरह रहते हैं. जब भी भारत आते हैं, हर किसी से प्यार से मिलते हैं. बिना किसी स्टारडम के ऑटो रिक्शा में घूमते दिख जाते हैं.

3. इतने बड़े खिलाड़ी इसलिए हैं क्योंकि अपने फ़ैंस से प्यार करते हैं.

Source: allindiaroundup

एबी डिविलियर्स की हमेशा से ही एक ख़ासियत रही है. वो जब कभी भी किसी टूर पर जाते हैं, अपने फ़ैंस को हमेशा ख़ुश रखते हैं. चाहे सेल्फ़ी खिंचाना हो या ऑटोग्राफ़ देना हो, वो अपने चाहने वालों को कभी निराश नहीं करते। यही वजह है कि एबी जिस भी देश में जाते हैं उनके चाहने वाले मिल ही जाते हैं.

4. किसी मैच में जीत और हार के बाद विरोधी टीम की हौसला अफ़जाई ज़रूर करते हैं.

Source: timesnownews

चाहे उनकी टीम कोई मैच जीत ही क्यों न गयी हो, लेकिन वो जीत की ख़ुशी में विपक्षी टीम के ख़िलाफ़ कभी भी कोई नकारात्मक टिप्पणी नहीं करते. उनके शुरुआती दिनों में साउथ अफ़्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए एक मुक़ाबले में रिकी पोंटिंग ने उनके ख़िलाफ़ शतक बनाया. बावजूद इसके एबी ने पोंटिंग की पीठ थपथपाई. हार और जीत के बाद एबी ने हमेशा खेल भावना को बनाए रखा.

5. परिवार की वैल्यू क्या होती है उसे समझा और अपनी सफ़लता के लिए अपने परिवार को हमेशा आगे रखा.

Source: mensxp

आईपीएल हो या फिर कोई अन्य विदेशी टूर, उनका परिवार हमेशा ही उनके साथ होता है. एबी हमेशा से ही अपने परिवार को अपनी ताक़त मानते रहे हैं. वो कई बार कह भी चुके हैं कि मेरी पत्नी जब भी मुझे खेलते हुए देखती हैं, मैं उस दिन उसी के लिए खेलता हूं.

6. किसी भी ज़िम्मेदारी के लिए हर वक़्त तैयार रहना.

Source: theyellowcap

एबी डिविलियर्स हमेशा से ही अपने ऑलराउंड खेल के लिए जाने जाते हैं. बैटिंग, फ़ील्डिंग, कीपिंग हो या फिर कप्तानी, उन्होंने हर ज़िम्मेदारी को बख़ूबी निभाया है. ज़रूरत पड़ने पर बॉलिंग भी की है. टीम की जीत के लिए ग्राउंड पर उनका डेडिकेशन हर युवा क्रिकेटर के लिए एक सीख़ की तरह होगा. 34 साल की उम्र में भी आईपीएल मैचों के दौरान एबी हवा में उड़ कर कैच लपक रहे थे.

7. क्रिकेट में कुछ भी ग़लत हो रहा हो तो डिविलियर्स कभी चुप नहीं रहे.

Source: thehimalayantimes

साउथ अफ़्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए टेस्ट मैच के दौरान हुए बॉल टेम्परिंग विवाद पर भी डिविलियर्स ने खुलकर कहा कि 'ग़लत हमेशा ग़लत होता है. बॉल की कंडीशन बदलने का वो तरीक़ा गलत था, इसके लिए नियम के मुताबिक़ चलना पड़ता है. लेकिन इस मामले में उन प्लेयर्स के साथ बहुत सख़्ती हुई'.

8. डिविलियर्स को चाहने वाले सिर्फ़ उनकी टीम वाले ही नहीं, विपक्षी टीम वाले भी हैं.

Source: indianexpress

क्रिकेट में ऐसा कम ही होता है कि जब आप बल्लेबाज़ी कर रहे हों और विपक्षी टीम के खिलाड़ी आपकी तारीफ़ करें. लेकिन डिविलियर्स के साथ इसके विपरीत होता था. टीम चाहे कोई भी हो, हर खिलाड़ी एबी की स्टाइल का कायल था और उनसे सीखने के लिए तैयार रहता था. डिविलियर्स का स्वभाव ही ऐसा है कि उनके साथ कोई भी खिलाड़ी मैदान पर ग़लत व्यवहार करने के बारे में सोच भी नहीं सकता.

9. क्रिकेट ही नहीं कई और खेलों में भी माहिर हैं डिविलियर्स.

डिविलियर्स क्रिकेट में तो 'मिस्टर 360 डिग्री' हैं ही. क्रिकेट के अलावा फुटबॉल, हॉकी, टेनिस जैसे कई खेल भी अच्छा खेल लेते हैं. एबी को सिंगिंग का भी बेहद शौक है क्योंकि उनके पत्नी डेनियल भी अच्छी सिंगर हैं. वो अक्सर अपनी पत्नी के सिंगिंग वीडियो को सोशल मीडिया पर शेयर करते रहते हैं.

10. एबी डिविलियर्स का भारत प्रेम जगज़ाहिर है.

Source: abc

एबी डिविलियर्स कई बार कह चुके हैं कि भारत हमेशा ही उनके लिए 'सेकंड होम' रहा है. एबी शायद दुनिया के एकमात्र ऐसे खिलाड़ी हैं जिनको भारत में सचिन जितना मान और सम्मान मिलता है. चाहे मैच भारत के ख़िलाफ़ ही क्यों न हो रहा हो, जब डिविलियर्स बल्लेबाज़ी कर रहे होते हैं, तो पूरे स्टेडियम में सिर्फ़ AB... AB.. की आवाज़ें सुनाई देती हैं. बदले में AB भी अपने फ़ैंस को निराश नहीं करते.

वर्ल्ड क्रिकेट को इतने साल एंटरटेन करने के लिए आपका शुक्रिया एबी डिविलियर्स.