प्यार की जब हदें पार होती हैं, तो लोग अपने जज़्बातों पर नियंत्रण खो बैठते हैं. कई बार ऐसी परिस्थिति आ जाती है, जिससे गुज़रने पर समाज हाय-तौबा करने लगता है. शादी से पहले हो या बाद में, यौन सम्बन्ध सुरक्षित होने चाहिए. उसके बाद आपकी इच्छा पर है कि आप बच्चा प्लैन करना चाहती हैं तो ठीक, नहीं तो प्रेग्नेंसी से बचने के लिए इन तरीकों को अपना सकती हैं.

1. कंडोम

Source- Newhealthadvisor

दुनियाभर में प्रेग्नेंसी से बचने के लिए कंडोम सबसे ज़्यादा इस्तेमाल होता है. ये आसानी से कहीं भी मिल जाता है और युवाओं से लेकर शादीशुदा लोग इसका इस्तेमाल करते हैं. ये शत प्रतिशत तो नहीं, पर करीब 97% केस में काम करता है. इसके अलावा ये यौन रोगों यानि Sexually Transmitted Diseases (STDs) को भी फैलने से बचाता है. कंडोम सिर्फ़ पुरुषों के लिए ही नहीं महिलाओं के लिए भी होता है.

2. Birth Control Pills

Source- Webmd

ये तरीका बहुत ज़्यादा इस्तेमाल नहीं होता. इस टैबलेट में दो हॉर्मोन होते हैं, Progestin और Estrogen जो Ovulation से बचाता है और गर्भाशय ग्रीवा लाइन को मोटी करता है. ये कंडोम से ज़्यादा असरदार होती है. इसके लिए आपको 21 दिन के लिए ये टैबलेट हर रोज एक निश्चित समय पर लेनी है. इसके हॉर्मोन जब शरीर के हरमोन से मिलते हैं तो उसके कुछ नुक्सान भी होते हैं, जैसे सिरदर्द, पीठ दर्द और ऐंठन. इसे पीरियड्स के नियंत्रण के​ लिए भी इस्तेमाल किया जाता है और इससे पीरियड्स का दर्द भी कम होता है.

3. Emergency Contraceptive Pill

Source- Motherhow

Contraceptive Pill एक बार लेने वाली होती है. अगर आपको लग रहा है कि असुरक्षित यौन सम्बंध की वजह से आप प्रेग्नेंट हो सकती हैं, तो इसे 72 घंटे के अंदर लें. Gynaecologists की सलाह रहती है कि कोई भी महिला इसे पूरे जीवन में 3 बार से ज़्यादा इस्तेमाल न करे, नहीं तो मां बनने में ​दिक्कत हो सकती है.

4. Intra-Uterine Device (IUD)

Source- Amazonows

इसे कॉपर T भी कहते हैं. ये T के आकार का होता है और महिलाओं के गर्भाशय में प्रेग्नेंसी रोकने के लिए लगाया जाता है. इसमें या तो कॉपर यानी तांबा होता है या हॉर्मोन होते हैं. Hormonal IUDs प्रेग्नेंसी को तीन से पांच साल तक रोक सकते हैं. कॉपर T सबसे ज़्यादा असरदार IUD है, जो गर्भाशय में करीब दस साल के लिए रह सकता है.

5. Sterilization

प्रेग्नेंसी रोकने का ये तरीका काफ़ी बाद की स्टेज में इस्तेमाल होता है, खास तौर से थोड़ी ज़्यादा उम्र की महिलाओं के लिए. इस सर्जरी में डॉक्टर फैलोपियन ट्यूब को ब्लॉक यानि बंद कर देते हैं. ये काट कर हो सकता है, या ट्यूब को बांध कर.

6. The Shot

Source- Fertilidad

Depo-Provera एक इंजेक्शन है, जिसमें Progestin हॉर्मोन होता है. ये हॉर्मोन तीन महीने के लिए अनियोजित Conception रोक सकता है. ये भी Ovulation बचाता है और गर्भाशय ग्रीवा लाइन को मोटी करता है. ये अंडे को अंडाशय छोड़ने से रोकता है और साथ में वीर्य को गर्भाशय ग्रीवा लाइन पार करने से रोकता है.

7. Contraceptive Patch

Source- Mdecg

जन्म नियंत्रण के लिए ये Patch एक स्टीकर कर तरह होता है, जो चमड़ी पर चिपक जाता है और प्रेग्नेंसी रोकता है. इस Patch से डोज़ चमड़ी के रास्ते खून ​में मिल जाती है. ये भी Birth Control Pills की तरह ही होती है और वही Progestin और Estrogen हॉर्मोन इसमें होते हैं. ये भी वहीं काम करता है, जो वो टैबलेट करती है.

8. Ring

Source- Webmd

ये रबर के छल्ले जैसा होता है, जो Vagina में आसानी से चला जाता है. इसे तीन हफ़्ते तक अंदर रखा जाता है और चौथे हफ़्ते निकाला जाता है. इसमें भी Progestin और Estrogen हॉर्मोन होते हैं और ये भी Patch, Shot की तरह ही काम करता है.

9. Diaphragm

Source- Sites

Diaphragm, सिलिकॉन से बना, हल्का गहरा छोटी कटोरी जैसा होता है, जिसे योनि में डाला जाता है. ये गर्भाशय ग्रीवा को ढक लेता है, जिससे वीर्य अंदर नहीं जा पाता. ये तभी बेहतर काम करता है, जब शुक्राणुनाशक के साथ इसका प्रयोग करें. ये यौन सम्बंध से पहले लगाया जाता है.

10. Abstinence

Abstinence यानि यौन सम्बंध से दूर रहना. हालांकि ये इतना आसान नहीं होता है, लेकिन प्रेग्नेंसी रोकने का इससे बेहतर तरीका भी नहीं है. इसका मतलब ये नहीं है कि आप Sexual Activity में भाग ही न लें, बस आप सेक्स न करें.

Source- Listovative