आधार कार्ड की लंबी लड़ाई अपने गंतव्य तक पहुंच चुकी है. सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों की पीठ ने आधार कार्ड पर अपना फ़ैसला सुना दिया है. इस फ़ैसले पर देश और दुनिया की निगाहें थीं. भारतीय नागरिकों के जीवन पर इस फ़ैसले का सीधा असर होने वाला था.

Representational Image: indianexpress

कोर्ट के फ़ैसले के 10 मुख्य बिंदु:

1. मोबाइल कंपनी और बैंक अकाउंट से आधार लिंक करना ज़रूरी नहीं होगा.

2. देश की सुरक्षा एजेंसियां आधार कार्ड की मांग कर सकती हैं.

3. किसी भी प्रकार की निजी कंपनी आधार डेटा की मांग नहीं कर सकती.

Image Source: jagran

4. CBSE, NEET और UGC की परीक्षाओं या दाखिले के लिए आधार की मांग नाजायज़ है.

5. आधार कार्ड से निजता के अधिकार को किसी प्रकार का ख़तरा नहीं है, इसको बनाने के लिए बहुत कम जानकारी ली जाती है.

6. पैनकार्ड और आयकर रिटर्न भरने के लिए आधार ज़रूरी होगा.

7. सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए आधार अनिवार्य होगा.

Image Source: india

8. सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए आधार अनिवार्य होगा.

9. आधार डेटा को और सुरक्षित बनाने के लिए कोर्ट ने सरकार को सख़्त क़दम उठाने की सलाह दी.

10. कोई एजेंसी अगर आधार कार्ड के डेटा का इस्तेमाल कर रही है, तो उसे देश के नागरिकों को पहले सूचित करना होगा

सुप्रीम कोर्ट के इस फ़ैसले के बाद से ये साफ़ हो चुका है कि आधार कार्ड अब भारतीय नागरिकों के जीवन का अभिन्न अंग बन जाएगा.