यात्रा के अपने कुछ नियम होते हैं, जैसे कहीं जाने से पहले अपनी हर चीज़ को ढंग से रखना. खाने-पीने, उठने-बैठने के लिए सभी चीज़ों को पूर्णरूप से ले जाना. इन नियमों को मानने से आपकी यात्रा में किसी तरह की कोई बाधा नहीं आती है. इन नियमों को सब जानते भी हैं और मानते भी हैं, लेकिन कुछ ऐसे यात्रा के नियम हैं, जो शायद आप लोग नहीं जानते होंगे.

Source: azamaraclubcruises

जैसे, दक्षिणी ध्रुव की यात्रा करते समय कुछ बहुत कठोर नियम हैं. वैसे ही अंटार्कटिका की यात्रा करते समय भी कुछ नियमों का पालन करना ज़रूरी है.

1. बीज़ों को ले जाना मना है

Source: flickr

अंटार्कटिका में कुछ बहुत सख़्त स्वच्छता नियम हैं. वहां पर हर चीज़ को हर दिन अच्छी तरह से धोना, नष्ट करना और निरीक्षण करना ज़रूरी है. वहां पर इतने तरह के पेड़ हैं कि ये सुनिश्चित करना ज़रूरी है कि कहीं आप अपने साथ बीजों के सबसे बड़े हिस्से को भी तो नहीं ले जा रहे हैं.

2. काई (Lichen) पर चलना है मना

Source: gstatic

जब लोग अंटार्कटिका की कल्पना करते हैं, तो बर्फ़ीली चट्टानें दिमाग़ में आती हैं. इन्हीं बर्फ़ से ढकी चट्टानों पर कई प्रकार की घास, काई और लाइकेन उगते हैं. इन्हें बड़ा होने में क़रीब 6 महीने का समय लगता है. इसलिए उन पर चलना मना होता है.

3. पेंगुइन अपना खुद का घर ढूंढ सकते हैं

Source: oceanwide

कई जगह ये नियम होता है कि जानवरों के पास न जाएं उन्हें कुछ खिलाएं न. वैसे ही पेंगुइन के बारे में एक असामान्य नियम ये है कि पेंगुइन कभी-कभी समुद्र में ख़ुद से छलांग मारती हैं तो उन्हें छूना मना है.

4. डॉल्फ़िन को अकेला छोड़ दें

Source: conservationinstitute

व्हेल और डॉल्फ़िन दोनों को परेशान करना नियमों का उल्लंघन है. इसलिए उनके साथ खेलिए, पर उनको परेशान मत करिये और अपनी यात्रा को यादगार बनाइए.

5. व्हेल को पकड़ने की कोशिश न करें

Source: thimages

समुद्री जानवर जैसे व्हेल को मछली पकड़ने के उपकरण में पकड़ा जाता है. इसलिए ऐसा सिर्फ़ अनुभवी चालक दल के सदस्यों को ही करने दिया जाता है.

6. किसी भी तरह का हथियार नहीं लाएं

Source: theculturetrip

अंटार्कटिका एक विमुद्रीकृत क्षेत्र है. इसका मतलब ये है कि इस क्षेत्र पर कोई सैन्य गतिविधि नहीं हो सकती है, जिसमें युद्धाभ्यास करना और सैन्य ठिकानों को स्थापित करना शामिल है. इसके अलावा यहां किसी भी विस्फ़ोटक उपकरणों को लाने की इजाज़त नहीं है.

7. कोई स्मृति चिन्ह नहीं

Source: theculturetrip

हर कोई अपनी यात्रा की कोई एक याद हमेशा के लिए अपने पास रखना चाहता है. जैसे फ़ोटो, समुद्र तट का कोई पत्थर, वहां का कुछ फेमस सामान आदि. मगर अंटार्कटिका में ऐसा कुछ भी करना प्रतिबंधित है। इस बैन में चट्टानों, पंखों, हड्डियों, अंडों और मिट्टी के निशान सहित किसी भी तरह की जैविक सामग्री शामिल है. मानव निर्मित कुछ भी ले जाना पूरी तरह से प्रतिबंधित है.

8. ऐतिहासिक स्थलों या वर्तमान साइटों को ख़राब न करें

Source: antarctica

अंटार्कटिका में ऐतिहासिक स्थलों की संख्या बहुत अधिक है. पुराने ठिकाने और झोपड़ियां जो कभी खोजकर्ता और वैज्ञानिकों द्वारा उपयोग की जाती थीं. उनके पास जाकर उनसे छेड़छाड़ करना मना है. यहां तक कि जो साइट बन रही हैं उन्हें भी ख़राब करना मना है.

9. धूम्रपान पर है पाबंदी

Source: theculturetrip

अंटार्कटिका में सफ़ाई पर बहुत ध्यान दिया जाता है. जल प्रदूषित न हो इसलिए पानी में पत्थरों को फेंकना नियमों के ख़िलाफ़ है. अगर आप धूम्रपान करते हैं, तो उसकी राख को ख़ुद ही समेट कर ले जाना होगा. यहां पर केवल उन्हीं इलाकों में धूम्रपान किया जा सकता है, जो इलाके धूम्रपान के लिए बने हों.

10. खुद को सुरक्षित खुद ही रखना होगा

Source: antarctica

अंटार्कटिका बहुत सुंदर जगह होने के साथ-साथ ख़तरनाक भी है, क्योंकि पहाड़ों पर बर्फ़ होती है, जिससे आप गिर सकते हैं. इसलिए यहां के अधिकांश टूर ऑपरेशन ये सुनिश्चित करते हैं कि टूरिस्ट सुरक्षित रहें और आपको इस बात की जानकारी दी जाए कि आप अपने आप को कैसे सुरक्षित रख सकते हैं.

अंटार्कटिका सबसे ठंडे स्थानों में से एक होने के साथ-साथ प्रकृति की ख़ूबसूरती से भी भरपूर है. हालांकि, अंटार्कटिका को दुनिया में सबसे पुराने टूरिस्ट प्लेस में से एक माना जाता है और इसे वैज्ञानिक अनुसंधान केंद्र के रूप में भी जाना जाता है.

Source: theculturetrip