भोपाल से एक शर्मनाक घटना सामने आई है. पांचवी कक्षा में पढ़ने वाली दस साल की बच्ची का तीन महीने तक गैंग-रेप किया गया. आखिरी बार 12 नवंबर को उसका रेप किया गया था.

जहांगीरपुर पुलिस थाने के इस्पेक्टर प्रीतम सिंह ठाकुर ने बताया कि पिछले तीन महीने में उसके साथ दो या तीन बार रेप हुआ है. इस जुर्म में 65 वर्षीय चौकीदार और दो अन्य लोगों को गिरफ़्तार किया गया है.

चौकीदार नान्हू लाल, गोकुल पानवाला (45) और ज्ञानेंद्र पंडित (36) ने सुमन पाण्डेय (50) के घर में लड़की का बलात्कार किया था. लड़की की मां ने पुलिस में शिकायत दर्ज करायी है.

लड़की की मां ने बताया कि बीते कुछ दिनों से बच्ची चुप-चुप रह रही थी और दुखी लगती थी. जब उससे पूछा गया, तो उसने पूरी कहानी अपनी मां को बताई.

ऐसा करने वालों ने लड़की को धमकी भी दी थी कि अगर उसने किसी को इसके बारे में बताया, तो उसके साथ बुरा किया जायेगा. उसे मिठाई का लालच देकर घर ले जाया जाता था. ये जगह लड़की के घर के पास ही थी.

गैंगरेप और POCSO के तहत शिकायत दर्ज कर ली गयी है. सभी आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया गया है. गोकुल पान की दुकान चलाता है, ज्ञानेंद्र ड्राईवर है और सुमन दूसरों के घरों में काम करता है.

कुछ दिन पहले ही भोपाल से एक और युवती के गैंगरेप की ख़बर आयी थी और अब एक बच्ची के साथ ऐसा होने की घटना सामने आई है.

Source: NDTV