बॉलीवुड हमेशा से ही अपनी फ़िल्मों की भव्यता के लिए जाना जाता है. 'मुग़ल-ए-आज़म' से लेकर हाल ही में प्रदर्षित हुई संजय लीला भंसाली की 'पद्मावत' इसका जीता जागता उदाहरण हैं. डॉयरेक्टर फ़िल्म को वास्तविकता के करीब रखने के लिए पुरज़ोर कोशिश करता है. इसके लिए करोड़ों के सेट बनाये जाते हैं. बॉलीवुड में अब तक कई ऐसी फ़िल्म बन चुकी हैं, जिनके सेट दर्शकों को सचमुच के महल, गांव और शहर जैसे लगे.

1. बाहुबली

Source: indiatourismguide

बाहुबली भारतीय सिनेमा की अब तक की सबसे महंगी फ़िल्म है. इसे बनाने में 250 करोड़ रूपये खर्च हुए. इस फ़िल्म का सेट हैदराबाद के रामोजी फ़िल्म सिटी में बनाया गया था. इसकी भव्यता का अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इसके सेट को बनाने के लिए तकरीबन पांच सौ लोगों ने लगातार 50 दिनों तक काम किया था. इसके पहले भाग के सेट को बनाने में 28 करोड़ जबकि दूसरे भाग को बनाने के लिए 35 करोड़ रुपये ख़र्च हुए.

2. प्रेम रतन धन पायो

Source: movies

हम आपके हैं कौन से लेकर हम साथ-साथ हैं तक सूराज बड़जात्या की फ़िल्मों में हम हमेशा ही शानदार महल और घर देखते आये हैं. उनकी हालिया फ़िल्म प्रेम रतन धन पायो में जो आलिशान शीशमहल दिखाया गया था वो भी असली नहीं था. इस शीशमहल को बनाने के लिए उन्हें करोड़ों रूपये ख़र्च करने पड़ गए थे.

3. मुग़ल-ए-आज़म

Source: daily

हिंदी सिनेमा इतिहास की सबसे बेहतरीन फ़िल्मों में से एक मुग़ल-ए-आज़म आज भी अपने शानदार सेट्स के लिए जानी जाती है. इस फ़िल्म में जो शीशमहल दिखाया गया था दरअसल वो मुंबई के एक स्टूडियो में एक सेट के तौर पर बनाया गया था.

4. वेलकम बैक

Source: indiatimes

जॉन अब्राहम स्टारर कॉमेडी फ़िल्म 'वेलकम बैक' का सेट भी बेहद शानदार बनाया गया था. डायरेक्टर अनीश बाज़मी ने अबू धाबी एमिरेट्स पैलेस का भव्य सेट मुंबई के फ़िल्म सिटी में बनाया था. 20 दिन में तैयार किये गए इस सेट को बनाने में करीब 3.5 करोड़ रूपये ख़र्च हो गए थे.

5. बाज़ीराव मस्तानी

Source: deccanchronicle

संजय लीला भंसाली की इस फ़िल्म की अधिकांश शूटिंग मुंबई फ़िल्म सिटी में बनाये गए सेट में की गयी थी. भंसाली हमेशा से ही अपनी फ़िल्मों को बड़ी भव्यता के साथ पेश करते आये हैं.

6. जोधा अकबर

Source: deccanchronicle

आशुतोष गवारिकर निर्देशित फ़िल्म जोधा अकबर को भी हिंदी सिनेमा में उसकी भव्यता के लिए जाना जाता है. अकबर और जोधा के महल के लिए उन्होंने भी करजात में बनाया था जो हू-ब-हू उस ज़माने के पुराने महल जैसा दिख रहा था.

7. बॉम्बे वेलवेट

Source: indiatimes

रणबीर-अनुष्का स्टारर इस फ़िल्म की कहानी 1960 के दशक की थी. इसीलिए अनुराग कश्यप और करण जौहर ने इस फ़िल्म को 1960 के दशक का दिखाने के लिए 9.5 एकड़ में जमीन पर एक पूरा शहर बसा दिया था. इसे बनाने में 10 महीने लग गए थे.

8. व्योमकेश बख़्शी

Source: indiatimes

जासूस व्योमकेश बख़्शी की ज़िन्दगी पर आधारित इस फ़िल्म के सेट को 1940 के दशक के कलकत्ता के तौर पर दिखाया गया है. वन्दना कटारिया द्वारा डिज़ाइन इस सेट को फ़िल्म में हू-ब-हू कलकत्ता के बीबीडी बाग़ इलाक़े जैसा ही दिखाया गया था.

9. सांवरिया

Source: indiatimes

साल 2007 में रिलीज़ हुई रणबीर कपूर और सोनम कपूर की डेव्यू फ़िल्म सांवरिया की पूरी सूटिंग सेट पर ही हुई थी. भंसाली की इस फ़िल्म के सेट पर अधिकतर नीले रंग का इस्तेमाल किया गया था. फ़िल्म जितनी कलरफ़ुल थी उतनी ही बोरिंग भी थी.

10. देवदास

Source: indiatimes

साल 2002 में रिलीज़ हुई भंसाली की एक और फ़िल्म थी 'देवदास'. इस फ़िल्म में भी कई शानदार सेट बनाये गए थे. देव, पारो और चंद्रमुखी की प्रेम कहानी को बयां करती इस फ़िल्म में जो महल दिखाए गए थे वो देखने में बेहद ख़ूबसूरत थे. वहीं पारो के घर को बनाने में 7 महीने का समय लगा जिसे 12 करोड़ से ज़्यादा कांच के टुकड़ों से मिलकर बनाया गया था.

11. रामलीला

Source: indiatimes

रणवीर-दीपिका स्टारर फ़िल्म रामलीला का 'नगाड़ा संग ढोल बाजे' गाने में जो सेट बनाया गया था वो बहुत महंगा था. इस गाने के अलावा फ़िल्म के कई और सीन में दिखाए गए महल स्टूडियो में लगाए गए सेट थे. जबकि भंसाली ने इस फ़िल्म के सेट पर ही रणवीर सिंह के लिए एक जिम भी बनाया था.

12. लुटेरा

Source: indiatimes

रणवीर-सोनाक्षी स्टारर लुटेरा की अधिकांश शूटिंग गर्मियों में हुई थी. लेकिन इस फ़िल्म में दर्शकों ने अधिकांश सीन ठन्डे और बर्फ़ वाले देखे होंगे. इस फ़िल्म में ज़्यादातर बर्फ़, पेड़, गांव और घर वाले दृश्य आर्टिफ़िशियल थे.

13. पद्मावत

रानी पद्मावती की ज़िन्दगी पर आधारित फ़िल्म 'पद्मावत' को लेकर देशभर में प्रदर्शन हुए. लेकिन इस फ़िल्म ने अपने शानदार सेट्स और रणवीर सिंह की ज़बर्दस्त एक्टिंग के कारण खूब वाहवाही बटोरी. इस फ़िल्म की सबसे बड़ी ख़ासियत ही इसके भव्य सेट्स थे. हमेशा की तरह भंसाली ने इस बार भी फ़िल्म को शानदार आर्ट वर्क के ज़रिये सुपरहिट बना दी.

ये थी हिंदी सिनेमा की कुछ शानदार व भव्य सेट वाली फ़िल्में, आपको कैसी लगीं हमें बताइएगा.

Source: deccanchronicle