UNESCO ने भारत के तमाम ऐतिहासिक स्थलों को उनके सांस्कृतिक और ऐतिहासिक महत्त्व के आधार पर वैश्विक धरोहर माना है. इतिहास में रुचि रखने वाले और घूमने के शौक़ीन लोग ज़्यादातर कुछ गिने-चुने स्थानों पर ही जाते हैं. जबकि हमारे देश में ऐसे बहुत से स्थान हैं, जो भले कम प्रसिद्ध हों मगर ये भारतीय इतिहास का महत्वपूर्ण हिस्सा हैं.

आज हम आपको बताएंगे ऐसे ही कुछ ऐतिहासिक स्थलों के बारे में, जिन्हें कम ही लोग जानते हैं, मगर इतिहास में इनका बड़ा महत्त्व है.

1. निज़ामत इमामबाड़ा, मुर्शिदाबाद

Source: wbtourism

मुर्शिदाबाद पश्चिम बंगाल का एक ज़िला है. यहां पुराने समय में अनेक धर्मों, जातियों और संस्कृतियों का संगम रहा है. यहां का निज़ामत इमामबाड़ा भारत का सबसे बड़ा इमामबाड़ा है. पहले इसी जगह पर सिराजुद्दौला का इमामबाड़ा था लेकिन आग लगने के कारण वो बर्बाद हो गया था. इसके अलावा यहां आप हज़ारद्वारी पैलेस, वसीफ़ मंज़िल, कटरा मस्जिद और जहांकोसन तोप देख सकते हैं.

2. मलूटी, झारखण्ड

Source: travelthemes

मलूटी, झारखण्ड राज्य के दुमका ज़िले में शिकारीपाड़ा के पास एक छोटा सा गांव है. यहां आप जिधर भी नज़र दौड़ाएंगे, आपको मंदिर ही नज़र आएंगे. इस छोटे से गांव में कुल 72 प्राचीन मंदिर हैं. पहले यहां 108 मंदिर थे, मगर संरक्षण के अभाव में 36 मंदिर नष्ट हो गए. इस गांव को पशुओं की बलि के लिए भी जाना जाता है. यहां काली पूजा के दिन 100 बकरियों के साथ भैंस और भेड़ों की भी बलि दी जाती है.

3. Arvalem Caves, Goa

Source: viagoatrips

गोवा में समुद्री तटों और बीच पार्टियों के अलावा, कई ऐतिहासिक जगहें भी हैं. यहां की अर्वलम गुफ़ाओं को पांडव गुफ़ाओं के नाम से भी जाना जाता है. यहां जाकर आपको लगेगा कि आप स्वयं इतिहास के किसी हिस्से में पहुंच गए हैं. लोक कथाओं के अनुसार पांडवों ने अपने वनवास के दौरान यहां शरण ली थी. ये जगह पणजी से 36 किलोमीटर दूर है.

4. ज़म्पा गेटवे, दीव

Source: flickr

ज़म्पा गेटवे, दीव का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है. यहां शेरों, फ़रिश्तों और पुजारियों की नक्काशी है. यहां 1700 से ज़्यादा शिलालेख भी हैं. इसलिए इतिहास में रुचि रखने वालों के लिए ये जगह बेस्ट है.

5. किराडू के मंदिर, राजस्थान

Source: rajasthandirect

राजस्थान के बाड़मेर के पास किराडू में कई मंदिर हैं. इन मंदिरों को 'राजस्थान का खजुराहो' भी कहते हैं. ये मंदिर अपने शिल्प कला के लिए विख्यात है. इनका निर्माण 11वीं शताब्दी में हुआ था.

6. ऐरण स्मारक, मध्यप्रदेश

Source: puratatva

ऐरण मध्यप्रदेश का एक गांव है, जहां राष्ट्रीय महत्त्व की तमाम ऐतिहासिक विरासतें हैं. ये जगह सागर से लगभग 90 किलोमीटर दूर है. मध्य प्रदेश में ऐसे कई ऐतिहासिक स्थल हैं, जहां हिन्दू, बौद्ध और जैन धर्मों से संबंधित सभ्यताओं के अवशेष मिले हैं.

7. लेह पैलेस, लद्दाख

Source: kuriositas

लेह पैलेस राजा 'सेंगे नामग्याल' द्वारा 17वीं शताब्दी में बनाया गया था. ये 9 मंज़िला महल है. लेह में कई ऐतिहासिक जगहें हैं. ये महल और इसके आस-पास की ख़ूबसूरती देखने लायक है.

8. सिरपुर, छत्तीसगढ़

Source: holidaytravel

सिरपुर, छत्तीसगढ़ में महानदी के तट पर स्थित है. यहां बौद्ध काल की सभ्यताओं के अवशेष मिले हैं. यहां का लक्ष्मण मंदिर, ईंट से बना सबसे ख़ूबसूरत मंदिर है.

9. Rabdentse, Sikkim

Source: india

रबदेन्त्से किसी ज़माने में सिक्किम की राजधानी हुआ करती थी. यहां ऐतिहासिक महत्त्व की बहुत सी वस्तुएं, महल और शिलालेख आज भी मौजूद है. रबदेन्त्से पैलेस 18वीं शताब्दी में बनाया गया था. अब ये महल खंडहर बन चुका है, मगर इसका ऐतिहासिक महत्त्व अभी भी कम नहीं हुआ है.

10. तलातल घर, असम

Source: theinfopedia

तलातल घर एक महल है, जो अहोम राजवंश का निवास था. ये जगह रंगपुर के पास शिवसागर से 4 किलोमीटर दूर है. असम का ये महल अहोम राजाओं द्वारा बनवाया सबसे बड़ा महल है.

11. Belgaum Fort, Karnataka

Source: blogspot

Belgavi Fort या Belgaum Fort कर्नाटक का एक ऐतिहासिक पर्यटन स्थल है. ये ख़ूबसूरत क़िला सह्याद्री पर्वत श्रृंखला के पास है.

12. उंडावल्ली गुफ़ाएं, आंध्र प्रदेश

Source: holidify

चौथी शताब्दी में बनी उंडावली गुफ़ाओं में 7 मंदिर हैं. ये मंदिर त्रिमूर्ति यानी ब्रह्मा, विष्णु और महेश को समर्पित हैं. यहां भगवान विष्णु की एक बड़ी मूर्ति है.

इतिहास हमेशा से उत्सुकता का विषय रहा है. अपने इतिहास को जानना और उस समय की सभ्यता और संस्कृति को जानना हो, तो आप भी इन जगहों पर एक बार ज़रूर जाएं.

Source: walkthroughindia