एक पांचवीं क्लास का बच्चा, रवि तेजा हाल ही में हैदराबाद की सड़कों पर पत्थरों के साथ दिखा. ये पत्थर किसी को मारने के लिए नहीं, बल्कि सड़कों के गड्ढे भरने के लिए थे. कुछ दिनों पहले रवि ने एक सड़क दुर्घटना अपनी आंखों से देखी थी, जिसमें इन गड्ढों की वजह से एक छह महीने का बच्चा बोरवेल में​ गिरा और उसकी मौत हो गई थी.

इस घटना का असर रवि पर कुछ ऐसा हुआ कि उसने सड़क के गड्ढों को खुद से भरने की ठान ली. रवि ने ANI से बताया कि-

हाल ही में एक परिवार गड्ढों की वजह से बाइक से गिर गया था. मैं किसी को ऐसे मरते नहीं देख सकता इसलिए गड्ढों को भर रहा हूं.' रिपोर्ट के अुनसार, ये बच्चा घंटों सड़क पर गड्ढे भर रहा था और प्रदूषण और ट्रैफ़िक से परेशान हो गया था.

रवि की इस पहल और जोश को देख कर लोगों ने उसकी वाहवाही की और प्रशासन ध्यान देने पर मजबूर हुआ.

Source- Indiatimes