5 जुलाई 2017, मुम्बई की एक लड़की को उसके पिता के दोस्त ने घुमाने ले जाने की बात ​की. घर वाले राज़ी हो गए क्योंकि वो उसके पिता का दोस्त था. शाम तक जब बेटी घर नहीं आई, तो उन्होंने दोस्त को फ़ोन करने की कोशिश की. आदमी का फ़ोन पहुंच से बाहर था. घर वाले परेशान हुए और ट्राम्‍बे पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज़ करा दी.

Source- Mid day

Mid-day की रिपोर्ट के अनुसार, लड़की गुरुवार रात 9:30 बजे करीब घर लौट आई. बदहाल और शरीर पर काफ़ी चोट लगी थी उसे. घर वाले उसे तुरंत Sion Hospital लेकर गए, जहां उसने बताया कि उसके पिता का दोस्त उसे कंजुमार्ग के एक घर में ले गया था. वहां उसने और 19-20 साल के तीन लड़कों ने बारी-बारी उसके साथ 30 घंटे तक रेप किया. इसके बाद उसे Mankhurd के पास छोड़ दिया गया. Hindustan Times की रिपोर्ट के अनुसार, उसे दोपहर 2 बजे पेन किलर दे कर छोड़ा गया था.

बात करने पर पता चला, पहले भी इस बच्ची के साथ दो बार रेप और एक बार किडनैपिंग हो चुकी है.

जब ये लड़की 11 साल की थी तब इसके दादा ने इसके साथ रेप किया था, जिसके बाद उसे 10 साल की जेल हो गई थी. बाद में उसके Cousin ने उसके साथ रेप किया था. पिछले साल एक आदमी ने इसका किडनैप भी किया था. इस बच्ची के इलाज पर पुलिस ने खास नज़र रखी हुई है. पुलिस ये भी जानने की कोशिश करेगी कि ये बच्ची अपने मां-बाप के साथ रहना भी चाहती है या नहीं.

उन चारों में से एक अपराधी फ़रार है, जबकी पिता के दोस्त और बाकी दो को पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया है. पुलिस ने ​इनके खिलाफ़ आईपीसी धारा 376D गैंग रेप, धारा 363 किडनैपिंग, धारा 366A नाबालिग से ज़बरदस्ती, धारा 506 आपराधिक धमकी और POCSO (Protection Of Children from Sexual Offences) Act के तहत केस दर्ज किया है.

Source- Mid-day & Hindustan Times