जब बच्चे मां-बाप को दर-दर भटकने के लिए छोड़ देते हैं, तब उन्हें शर्म नहीं लगती है. मगर जब मां उन्हें सबके सामने डांट दे, तो उनकी इज़्ज़त पर बात आ जाती है और अपनी उस खोखली इज़्ज़त के लिए वो अपने मां-बाप पर अत्याचार करते हैं. इसका अमार्मिक नज़ारा बेंगलुरु में देखने को मिला, जब एक 17 साल के बेटे ने अपनी मां को बेरहमी से पीटा.

ये वीडियो Youtube पर देखा गया था. जिसके बाद लोगों ने इसपर अपनी प्रतिक्रिया देनी शुरू की.

बेटे के द्वारा मां को पीटे जाने का वीडियो तेज़ी से वायरल हो रहा है. इस वीडियो में बेटा झाड़ू लेकर खड़ा है और सोफ़े पर बैठी मां को को झाड़ू से पीटता हुआ नज़र आ रहा है. इस पूरी घटना का वीडियो लड़के की बड़ी बहन ने बनाया है. इस लड़के ने जब देखा कि बड़ी बहन वीडियो बना रही है, तो उसे शर्म नहीं आई, बल्कि उसने बहन को धमकी दी, कि 'जो करना है कर लो, मैं तुम्हें भी सबक सिखाऊंगा.'

इस वायरल हुए वीडियो की छानबीन करते हुए, बीते शनिवार को जेपी नगर पुलिस ने आरोपी बेटे के ख़िलाफ़ केस दर्ज किया. इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई के नाम पर आरोपी को सिर्फ़ चेतावनी देकर छोड़ दिया. आरोपी ने अपनी ग़लती मानते हुए पुलिस के सामने मां से माफ़ी मांगी और लिखित में दिया कि वो फिर कभी ऐसा नहीं करेगा.

TOI की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने बताया, 'लड़का अपनी मां से नाराज़ था, क्योंकि उसकी मां ने पड़ोसियों के सामने उसे डांटा था. इससे पहले लड़के की मां अपने पड़ोसियों से लड़के को लेकर बात कर रही थी और कह रही थी कि वो अपने भविष्य को लेकर गंभीर नहीं है.'

सोशल मीडिया पर लोगों ने भी इस लड़के की बहुत निंदा की है.

क्या अपने बेटे के भविष्य की चिंता करना इतना बड़ा गुनाह है?