दोस्तों अगर आपसे पूछा जाए कि हमारे समाज में ख़ूबसूरती का पैमाना क्या है, तो यकीनन आपका जवाब होगा बड़ी-बड़ी आंखें, गोरा रंग, लम्बे बाल आदि. लेकिन ये पैमाने किसने बनाये, किसने कहां लिखा है कि अगर लड़की गोरी नहीं है, तो वो सुन्दर नहीं होती या अगर उसके बाल छोटे हैं, तो उसकी सुन्दरता कम हो जाती है. ये हमारे समाज की रूढ़िवादी सोच और संकुचित मानसिकता द्वारा बनाये गए सुंदरता के मापक हैं. जिनको हम आज भी मानते चले आ रहे हैं. लेकिन इन सबसे इतर Minnesota में रहने वाली के लिए उनकी सुंदरता उनका आत्मविश्वास है, जिसके बल पर वो ख़ूबसूरती की एक नई परिSara Geurts भाषा गढ़ रही हैं.

आइये आज हम आपको मिलवाते हैं Sara Geurts से:

जब Sara Geurts केवल 10 साल की थीं, तब उनको त्वचा सम्बन्धी दुर्लभ बीमारी Dermatosparaxis Ehlers-Danlos Syndrome (EDS) के बारे में पता चला था.

ये ऐसा डिऑर्डर है, जो शरीर में कोलेजन को उत्पन्न करने की क्षमता को रोकता है.

इस स्किन प्रॉब्लम के कारण Geurts की पूरी स्किन में समय से पहले ही झुर्रियां पड़ गयीं थीं, जिस कारण वो अपनी उम्र से बहुत बड़ी दिखने लगीं.

लेकिन ये फ़ोटोज़ देखने के बाद आप भी यकीन नहीं करेंगे कि केवल 26 साल की हैं और दुर्लभ स्किन डिज़ीज़ से जूझ रही हैं. वो किसी मॉडल से कम नहीं लग रही हैं इन फ़ोटोज़ में.

Geurts ने खुद को इस तरह आत्मविश्वास और दृढ़ता से मजबूत कर लिया है कि उनको अपनी इस कमी के चलते किसी से शर्माने या छिपने की ज़रूरत नहीं है.

अपने एक वीडियो में Geurts कहती हैं, 'मेरी स्किन ही मेरी सबसे बड़ी कमज़ोरी थी.' लेकिन अब मुझे लगता है कि यही मेरे लिए सबसे ख़ूबसूरत चीज़ है. आपकी हर अपूर्णता आपके लिए व्यक्तिगत है, और यही आपके बारे में एक कहानी बताती है कि आप कौन हैं, और किस संघर्ष का सामना कर रहे हैं.'

Geurts वैसे तो Minnesota की रहने वाली हैं, लेकिन अब वो Los Angeles में रहती हैं.

वो एक मिशन पर हैं जिसके तहत वो बताना चाहती हैं कि समाज को ख़ूबसूरती को देखने के अपने पैमानों, मापकों और नज़रियों को बदलने की ज़रूरत है.

2015 में उन्होंने अपनी कहानी को Love Your Lines campaign में सबमिट किया था. ये एक प्रोजेक्ट है, जो महिलाओं की खामियों और उनकी के लिए प्रशंसा करता है.

Barcroft TV द्वारा बनाये गए लेटेस्ट वीडियो को अब तक लगभग Instagram पर 20 लाख बार देखा जा चुका है.

हाल ही में Geurts ने अपने Instagram पर लिखा था, 'आप उन लोगों से मिलने जा रहे हैं, जो आपसे डरते हैं.' आप सबसे अलग हैं.

लोगों को पता नहीं है कि जो भीड़ से अलग चलता या दिखता है उसके सामने किस तरह रिएक्ट किया जाए क्योंकि वो आपको स्वीकार ही नहीं कर पाते हैं.'

उनको ऐसे लोगों से मिलने-जुलने की आदत नहीं होती है, जो उनकी तरह नहीं हैं, तो वो आपकी विशिष्टता को मजबूत करने के बजाय, आपको ये महसूस कराने की कोशिश करते हैं या करेंगे कि आपमें कोई कमी है.'

मैं यहां ऐसे लोगों को सही सलाह देने की लिए ही हूं, ताकि उनको पता चले कि हर इंसान को भगवान ने बनाया है और उसे भी आपकी तरह ही बिंदास अंदाज़ में जीवन जीने का हक़ है.'

यहां देखिये Geurts का वीडियो:

Video Source: Barcroft TV

Source: boredpanda