मेडिकल के क्षेत्र में भी नित नए अजूबे होते हैं. अब आप इस केस को ही देख लीजिए. 67 वर्षीय महिला पिछले कई दिनों से अपनी आंखों से परेशान थी. जांच के बाद जो सामने आया उसे देख डॉक्टर भी हैरान रह गए. इस महिला की आंखों में 27 कॉन्टैक्ट लेंसेस फंसे हुए थे. विडंबना तो देखिए इस बात की जानकारी उस महिला को भी नहीं थी.

बरमिंघम के नज़दीक Solihull Hospital में कार्यरत डॉक्टर Rupal Morjaria ने जब बताया कि मरीज़ की आंखों में 27 लेंस फंसे हुए हैं, तो इस बात पर किसी को विश्वास नहीं हुआ, क्योंकि ऐसा कोई भी मामला अब तक किसी ने सुना नहीं था. शुरुआती जांच में तो केवल 17 कॉन्टैक्ट लैंसों का पता चल पाया था, जो कि आपस में एकदम चिपके हुए थे. आगे की जांच से पता चला कि अभी 10 लैंस और भी हैं. डॉक्टर इस बात से हैरान हैं कि पेशेंट को इसका पता कैसे नहीं चला, क्योंकि आखों में हल्की सी भी परेशानी महसूस की जा सकती है.

पेशेंट पिछले 35 सालों से मंथली डिस्पोजे़बल कॉन्टैक्ट लेंस का इस्तेमाल कर रही है. इसमें कुछ अंतराल पर जांच की ज़रूरत पड़ती है, लेकिन उसने ऐसा नहीं किया. डॉक्टरों का तो यहां तक मानना था कि इलाज के बाद भी मरीज़ को पूरी तरह से राहत नहीं मिलेगी. लेकिन जब दो हफ़्ते बाद पेशेंट ने खुद कहा कि अब उन्हें किसी तरह की परेशानी महसूस नहीं हो रही है, तब सब ने चैन की सांस ली. वैसे तो यह मामला पिछले साल के नवंबर महीने का है, लेकिन ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में छपने के बाद अब चर्चा में आया है.

Source: metro