टाइटैनिक याद है आपको? इस फ़िल्म में टाइटैनिक नाम का जहाज़, एक बर्फ़ की चट्टान से टकरा कर चकनाचूर हो गया था. ग्रीनलैंड के एक गांव में भी ऐसी ही एक आफ़त तैरते हुए आ पहुंची है. आफ़त इसलिए क्योंकि ग्लेशियर का जो टुकड़ा वहां पहुंचा है, वो तकरीबन 300 फ़ीट का है और ये पूरे ग्रीनलैंड में सुनामी ला सकता है.

Source:blogs.egu.eu

ग्रीनलैंड के इस गांव का नाम Innaarsuit है, जहां 170 लोग रहते हैं. इस विशालकाय बर्फ़ के टुकड़े(Iceberg) की दहशत के चलते वहां के लोग गांव छोड़ने लगे हैं. जानकारों का कहना है कि ग्लेशियर का ये टुकड़ा 10 मिलियन टन का है और अगर ये पिघल गया, तो पूरे देश में सुनामी ला सकता है.

Source: abcnews
इस गांव परिषद की सदस्य Susanna Eliassen का कहना है कि, हम ग्लेशियर के टुकड़ों के आदी हैं, लेकिन इससे पहले हमने इतना बड़ा बर्फ़ का पहाड़ नहीं देखा. इसकी वजह से यहां 33 लोग गांव छोड़ चुके हैं.

ये बर्फ़ का पहाड़ धीरे-धीरे किनारे की तरफ़ बढ़ रहा है. ग्रीनलैंड में 4.1 रिक्टर स्केल के भूकंप से भी काफ़ी तबाही मच सकती है, ये इसलिए भी चिंताजनक है. जानकारों के मुताबिक, ये बर्फ़ का टुकड़ा हवा और समुद्र के ज्वार से बह कर आगे जा सकता है.

Source: abcnews

मगर दिक्कत ये है कि ग्लोबल वॉर्मिंग के चलते ये पिघल भी सकता है. ग्लेशियर के टुकड़े जल्दी से पिघलते नहीं और जब पिघलते हैं, तो ये काफ़ी उथल-पुथल मचाते हैं. इसलिए अभी ख़तरा टला नहीं है.

Feature Image Source: Ctvnews

Source: Businessinsider