अगर किसी से भी पूछा जाए सुंदरता का पैमाना क्या है, तो बिना देर किये जवाब आएगा कि गोरा रंग और निखरी त्वचा, अच्छी हाइट, लम्बे बाल आदि. क्यों ग़लत कहा क्या?

अगर बात करें सुंदरता के लिए ज़रूरी फ़ैक्टर की तो सबसे पहले महिला का रंग देखा जाता है, जबकि रंग से सुन्दरता का कोई मतलब नहीं है. लेकिन दुर्भाग्य ही है कि आज भी किसी महिला की विशेषताओं को ताक पर रख कर उसके रंग के आधार पर उसको आंका जाता है. शायद इसलिए फ़ेयरनेस क्रीम्स और तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट्स का बाज़ार फल-फूल रहा है. क्योंकि अगर आपने गौर किया हो तो ब्यूटी क्रीम्स के हर विज्ञापन में गोरी मॉडल्स को लिया जाता है और स्किन को फ़ेयर करने की बात की जाती है. क्या डार्क स्किन की महिलायें सुन्दर नहीं होती... गोरेपन पर इतना ज़ोर क्यों दिया जाता है.

सोशल मीडिया ख़ासतौर पर इंस्टाग्राम पर आपने बहुत सी खूबसूरत मॉडल्स को देखा होगा। इंस्टाग्राम पर हज़ारों मॉडल्स के अकाउंट हैं. मगर Shudu Gram उन सबसे अलग है. वो अलग इसलिए है क्योंकि वो डार्क स्किन वाली मॉडल है. पर आपको जानकर हैरानी होगी कि ये रियल की मॉडल नहीं है, बल्कि ये 3D मॉडल है.

इस डार्क स्किन वाली 3D मॉडल को 28 वर्षीय Cameron-James Wils, जो एक ब्रिटिश फ़ोटोग्राफ़र हैं ने बनाया है. खासबात ये हैं इस फ़ोटोग्राफ़र ने फ़ोटोग्राफ़ी का कोई कोर्स नहीं किया है, बल्कि यूट्यूब पर वीडियोज़ देखकर सीखा है. इस मॉडल Shudu Gram को 3D तकनीक से बनाया है.

Wilson ने Isiuwa Igodan को बताया, 'Shudu उस सुंदरता का प्रतिनिधित्व करती है, जो मैं देखता था हमेशा, बल्कि वो कुछ अलग भी दिखाती है. फिर भी इसमें अब कुछ बदलाव भी आ रहा है, मेरा मानना है कि अब अधिक से अधिक लोगों को ये सवाल करना चाहिए कि असल में खूबसूरती के मायने क्या हैं.'

हालांकि, इस आर्टिस्ट का दावा है कि वो सशक्तिकरण और विशिष्टता के संदेश को फैलाना चाहते थे और इसके चलते कई लोगों ने इनकी प्रतिभा की प्रशंसा भी की. वहीं कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर ये कहते हुए उनकी इस आर्ट का विरोध किया कि ये फ़ोटोग्राफ़र 3d ब्लैक मॉडल बनाकर असल की ब्लैक ब्यूटी या डार्क स्किन वाली महिलाओं की जॉब छीनने की कोशिश की है.

जब Wilson ने इस तरह के कमेंट्स पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि उनके मन में इस तरह का कोई इरादा नहीं था कि किसी की जॉब जाए और ना ही ये सोचकर उन्होंने ये मॉडल बनाई थी. साथ ही वो Shudu को व्यावसायिक रूप में इस्तेमाल करने के बारे में सोच रहे हैं. उनके लिए वो स्पेशल है.

आइये अब नज़र डालते हैं इस 3D ब्लैक ब्यूटी पर:

1. इंस्टाग्राम पर मौजूद हज़ारों मॉडल्स से अलग है Shudu.

2. ये 3D मॉडल अपनी बेदाग़ स्किन और एक आकर्षक आंखों से 40 हज़ार से ज़्यादा फ़ॉलोवर्स का दिल जीत चुकी है.

3. हाल ही में लोग उसके बारे में अधिक चर्चा कर रहे हैं.

4. लेकिन इस बार उसकी सुंदरता नहीं, बल्कि उसका रंग चर्चा का विषय बना हुआ है.

5. Shudu Gram को 3D तकनीक से youtube वीडियोज़ देखकर बनाया है.

6. लोगों का सवाल अब ये है कि असली सुंदरता क्या है.

7. डार्क स्किन की महिलायें भी बहुत सुन्दर होती हैं.

8. बेहद खूबसूरती से तराशा है आर्टिस्ट नेइस 3D मॉडल को.

9. आज टीवी या फ़िल्मों में हम जो सुन्दरता देखते हैं अधिकतर वो मेकअप का कमाल होता है.

10. Shudu इन सब से बिलकुल अलग है.

11. ये अपनी सुंदरता से वास्तविकता को तोड़ने की कोशिश कर रही है.

12. ऐसा इसलिये है क्योंकि वास्तव में वो असली नहीं है.

13. Shudu Gram एक डिजिटल रचना है.

14. वास्तव में ये बेहद ही ख़ूबसूरत है, जिसकी कल्पना भी मुमकिन नहीं है.

15. इस ब्लैक ब्यूटी के ज़रिये ये आर्टिस्ट सशक्तिकरण की बात कर रहा है, ना कि रंग-भेद को बढ़ावा देने की.

16. जहां कुछ लोग सोशल मीडिया पर इसकी तारीफ़ कर रहे हैं, वहीं कुछ इस पर नकारात्मक प्रतिक्रिया भी दे रहे हैं.

आपको क्या लगता है कि यहां पर रंग-भेद की बात हो रही है, या सुंदरता के मायने बताने की. इस आर्टिस्ट की तरह ही हम भी यही बताना चाह रहे हैं कि ख़ूबसूरती का कोई पैमाना नहीं होता। रंग गोरा हो या काला, दिल साफ़ होना चाहिए. आपकी क्या राय है इस बारे में कमेंट करके बताइयेगा.

Source: boredpanda