सर्दियों का मौसम है ऐसे में पहाड़ों पर बर्फ़बारी शुरू हो चुकी है. देश के पहाड़ी इलाक़ों हिमाचल, उत्तराखंड और जम्मू-कश्मीर में सैलानियों का जमावड़ा लगना शुरू हो चुका है. अगर आप भी घूमने-फिरने के शौक़ीन हैं और बर्फ़बारी का आनंद लेना चाहते हैं, तो देरी किस बात की.

Source: chardhamtourism

जैसा कि हमने अपनी 'ट्रैवल सीरीज़' के पहले भाग में आपके लिए 5 दिन की गोवा ट्रिप प्लान की थी. आज इसके दूसरे भाग में आपको देवभूमि उत्तराखंड की सैर कराने वाले हैं.

Source: spholidays

उत्तराखंड अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए दुनियाभर में प्रसिद्ध है. हर साल देश-विदेश से यहां लाखों पर्यटक आते हैं. पर्यटन उत्तराखंड की आय का मुख्य स्रोत माना जाता है. हरिद्वार, बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमनोत्री जैसे धार्मिक स्थलों के कारण उत्तराखंड देवभूमि के नाम से भी जाना जाता है, लेकिन सिर्फ़ इतना ही नहीं उत्तराखंड में ऐसी कई ख़ूबसूरत जगहें हैं, जो पर्यटकों की पहली पसंद मानी जाती हैं.

Source: dailyhunt

उत्तराखंड ट्रिप पर जाने का सोच रहे हैं तो सबसे पहले इस ख़ूबसूरत राज्य के बारे में अच्छे से जान लें. उत्तराखंड दो भागों में बंटा हुआ है कुमाऊं और गढ़वाल. देहरादून, मसूरी, हरिद्वार, ऋषिकेश, टिहरी, बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री व यमनोत्री गढ़वाल का हिसा हैं जबकि नैनीताल, रानीखेत, अल्मोड़ा, कौसानी, रामगढ़, मुक्तेश्वर और कॉर्बेट पार्क जैसी ख़ूबसूरत जगहें कुमाऊं की शान हैं.

Source: traveltriangle

अगर आप उत्तराखंड की ट्रिप प्लान कर रहे हैं और आपको ये जानकारी नहीं है कि वहां की किन-किन जगहों पर बर्फ़बारी का लुफ़्त उठाया जा सकता है, तो चलिए हम बताते हैं.

1- कैसे पहुंचें उत्तराखंड?

Source: euttaranchal

उत्तराखंड, दिल्ली से मात्र 250 किमी की दूरी पर स्थित है. ऐसे में आप अपनी पर्सनल कार या ट्रेन या फिर बस से भी उत्तराखंड जा सकते हैं. जबकि दिल्ली से हवाई सफ़र द्वारा पंत नगर तक जाया जा सकता है. दिल्ली से उत्तराखंड जाने के लिए ट्रांसपोर्टेशन की कोई समस्या नहीं है.

2- कितने दिन की ट्रिप बनायें?

Source: traveltriangle

अगर आप दिल्ली या आस-पास के राज्यों में रहते हैं, तो उत्तराखंड घूमने के लिए 5 दिन काफ़ी हैं. आप चाहें तो 3 दिन औली, हर्सिल और मसूरी, जबकि 2 दिन नैनीताल और मुक्तेश्वर घूम सकते हैं. बाकी आप ख़ुद ही दिन के हिसाब से तय कर लें कि आपको कितने दिन कहां घूमना हैं.

3- कहां बर्फ़बारी का आनंद उठायें?

Source: traveltriangle

अगर आप उत्तराखंड जा रहे हैं तो सबसे पहले ये जान लें कि बर्फ़बारी कहां-कहां होती है. कहीं ऐसा न हो कि वहां पहुंचने के बाद आप बर्फ़बारी का इंतज़ार ही करते रह जाएं. इसलिए आज हम उत्तरखंड की कुछ ऐसी ही ख़ास जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं जहां आप बर्फ़बारी का पूरा आनंद उठा सकते हैं.

नैनीताल

नैनीताल के निचले हिस्से में बेहद कम लेकिन ऊपरी हिस्से में आप बर्फ़बारी का लुफ़्त उठा सकते हैं. दिसंबर के आख़िरी हफ़्तों में नैनीताल के किलबरी टिफ़िन टॉप और चाइना पीक जैसे इलाक़ों में अच्छी ख़ासी बर्फ़बारी देखने को मिल जाएगी. आप नैनीताल अपनी पर्सनल कार से भी जा सकते हैं. नज़दीकी रेलवे स्टेशन काठगोदाम है.

मसूरी

Source: livehindustan

पहाड़ों की रानी मसूरी के बारे में तो आपको पता ही होगा कि यहां हर साल दिसंबर के दूसरे हफ़्ते में बर्फ़बारी देखने को मिलती है. देहरादून से मात्र 34 किमी की दूरी पर स्थित मसूरी में दिसंबर माह से ही सैलानियों की भीड़ देखी जा सकती है.

औली

Source: eventshigh

बर्फ़बारी के लिए औली उत्तराखंड का प्रमुख डेस्टिनेशन माना जाता है. दिसंबर के पहले हफ़्ते से ही यहां बर्फ़बारी शरू हो जाती है. इस दौरान औली घूमना किसी जन्नत से कम नहीं है. औली स्कीइंग के लिए भी दुनियाभर में फ़ेमस है. यहां पहुंचने के लिए आप देहरादून से जोशीमठ जा सकते हैं. औली यहां से मात्र 13 किमी की दूरी पर स्थित है.

हर्सिल

Source: letsexpresso

अगर आप स्विट्ज़रलैंड जैसी ख़ूबसूरती का दीदार करना चाहते हैं, तो उत्तराखंड का ये मिनी स्विट्ज़रलैंड आपको निराश नहीं करेगा. हर्सिल में हर साल भारी बर्फ़बारी होती है. पिछले कुछ सालों में ये जगह अपनी प्राकृतिक सुंदरता, नदी, झरने, देवदार के घने जंगलों, बर्फ़ से ढकी चोटियों के कारण पर्यटकों की पहली पसंद बनता जा रहा है.

मुक्तेश्वर

Source: letsexpresso

नैनीताल से करीब 46 किमी की दूरी पर स्थित मुक्तेश्वर उत्तराखंड के सबसे ख़ूबसूरत जगहों में से एक है. रामगढ़ की ख़ूबसूरत वादियों से होते हुए आप मुक्तेश्वर पहुंचकर बर्फ़बारी का आनंद ले सकते हैं. यहां हर साल अच्छी खासी बर्फ़बारी होती है.

4- क्या खाएं?

Source: youthuttarakhand

वैसे तो उत्तराखंड में आपको हर तरह का खाना मिल जायेगा, लेकिन हर राज्य की अपनी एक स्पेशल डिश होती है. ऐसे में उत्तराखंड पीछे कैसे रह सकता है. उत्तराखंड से होने के कारण मैं आपको वहां की स्पेशल डिश सरसों का साग और मड़वे की रोटी खाने की राय दूंगा. साथ ही झोली-भात, भट्ट की चुटकानी, बाजरे की रोटी भी खाना न भूलें.

5- ख़रीदारी कहां करें?

Source: tripadvisor

बर्फ़बारी से बचने के लिए मोटे कपड़ों की ज़रुरत होगी ऐसे में नैनीताल जा रहे हैं, तो अपने साथ ज़्यादा कपड़े न रखें क्योंकि नैनीताल की तिब्बती मार्किट में आपको गर्म कपड़ों की बेहतरीन वैराइटी मिल जाएगी. ये मार्किट पूरे नैनीताल में गर्म और फ़ैशनेबल कपड़ों के लिए बेहद प्रसिद्ध है.

6- कितना ख़र्चा आएगा?

Source: spholidays

उत्तराखंड घूमना आपकी जेब पर भारी नहीं पड़ने वाला. दिल्ली से देहरादून के लिए कश्मीरी गेट बस स्टेशन से आप उत्तराखंड परिवहन की बस जबकि नैनीताल के लिए आनंद विहार से बस ले सकते हैं. किराये की बात करें तो 250 रूपये से लेकर 800 रुपये में आप हर तरह की बस से नैनीताल या फिर देहरादून पहुंच सकते हैं. ट्रेन से आप 100 रुपये से लेकर 700 रुपये में आसानी से यहां पहुंच सकते हैं. यहां आपको 500 रुपये से लेकर 3000 तक के होटल आसानी से मिल जायेंगे. कुल मिलाकर 5 दिन की ट्रिप के लिए आपको 12 से लेकर 20 हज़ार रुपये तक ख़र्च करने पड़ सकते हैं.

ऐसे में आप ये तय कर लें कि आपको कहां घूमना है गढ़वाल या फिर कुमाऊं?