सच कहा है किसी ने, ‘सबसे छोटे ताबूत सबसे भारी होते हैं.’ एक हंसते-खेलते बच्चे का इस दुनिया को छोड़कर चले जाने से बढ़कर दुख हो नहीं सकता. ऐसा ही एक बच्चा है Garrett Michael Matthias, जो अब इस दुनिया में तो नहीं रहा, लेकिन उसके द्वारा लिखा गया शोक संदेश इन दिनों सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है.

Source: todayshow

Garrett Michael Matthias बीती 6 जुलाई को इस दुनिया को छोड़कर चला गया. जाने से पहले उसने अपनी फ़ैमिली और फ़्रेंड्स के लिए एक शोक संदेश लिखा था. जो इस प्रकार है:

'मेरा अंतिम संस्कार Thor (थॉर एक सुपरहीरो है, जिसके पास एक ताकतवर हथौड़ा है.) की मां की तरह जलाना. इसके बाद मेरी राख ज़मीन में दबा देना और उसमें एक पेड़ लगा देना. ताकि मैं गोरिल्ला बनकर आऊं और अपने डैड के ऊपर पॉटी कर सकूं.'

उसने इस पत्र में अपने सुपरहीरोज़ के साथ ही उन चीज़ों का भी ज़िक्र किया है, जो उसे पसंद नहीं है.

Garrett ने आगे लिखा- 'मूझे सुपरमैन, बैटमैन, थॉर, हल्क जैसे सुपरहीरो पसंद हैं. मैं बड़ा होकर एक किक-बॉक्सर बनना चाहता हूं. मुझे पैंट्स नहीं पसंद, कैंसर से मुझे नफ़रत है. मुझे सुई से भी नफ़रत है. और बंदर की नाक, जिससे चेरी जैसी बदबू आती है.'

Source: Kcci

Garrett को Alveolar Fusion Negative Rhabdomyosarcoma नाम का कैंसर था. अमेरिका के लोवा में रहने वाले उसके माता-पिता को पिछले साल सिंतबर में इसका पता चला था. इसके बाद से ही उसे कीमोथरेपी जैसे दर्दनाक ट्रीटमेंट से गुज़रना पड़ा. मगर 9 महीने की कड़ी मशक्त के बाद भी डॉक्टर्स Garrett को बचा न सके.

Source: imgur

Garrett ने अपने अंतिम संस्कार के बारे में बात करते हुए लिखा, 'मुझे ट्रेडिशनल फ्यूनरल अच्छा नहीं लगता. चूंकि मैं 5 साल का हूं, इसलिए मेरी कब्र पर 5 bouncy houses बना देना.'

आखिर में उसने लिखा- "See ya later, suckas!"

Source:gofundme

फ़िलहाल इस बच्चे के माता-पिता उसके कहे अनुसार ही उसका अंतिम संस्कार करने की कोशिश में जुटे हैं. Garrett का ये लेटर हमें सबक भी देता है और वो ये कि हमें ज़िंदगी को पूरी ज़िंदादिली से जीना चाहिए. साथ ही इस बात का दुख भी कि इतनी छोटी सी उम्र में ही वो दुनिया छोड़कर चला गया.

RIP Garrett Michael Matthias!

Source: Insideedition