हमारे देश में महिला सुरक्षा हमेशा से ही एक अहम मुद्दा रहा है. आये दिन महिलाओं से संबंधित कोई न कोई घटना सामने आ ही जाती है. ऐसे में महिलाओं को भी सुरक्षित रहने के लिए सतर्क और जागरूक रहने की आवश्यकता है. आज लगभग हर किसी के पास स्मार्टफ़ोन है. यह स्मार्टफ़ोन न सिर्फ़ आपके कम्यूनिकेशन का बेहतर आधार है, बल्कि आज महिलाओं की सुरक्षा में बहुत मददगार भी है.

आजकल हर व्यक्ति चाहे वो पुरुष हो या महिला उसके पास स्मार्टफ़ोन तो होता ही है. इन स्मार्टफ़ोन्स में महिलाओं की सुरक्षा के लिए भी कई App मौजूद होते हैं, जिनके माध्यम से बस एक बटन प्रेस कर या फिर फ़ोन को हिलाकर ही कोई भी महिला अपनी आपातकाल स्थिति या मुसीबत में फंसे होने की जानकारी अपने परिवार वालों या दोस्तों को दे सकती है. आज हम आपके लिए ऐसे ही लेटेस्ट 5 ख़ास सेफ़्टी App की जानकारी लेकर आये हैं.

1. Life 360 App

Life 360 App आपके फ़ैमिली मेंबर्स को आपकी सही लोकेशन के बारे में बताएगा. ये App जीपीएस ट्रेकिंग तकनीक पर आधारित है. इस App की मदद से GPS, WiFi या कॉल ट्रायंगुलेशन तकनीक के ज़रिये ये पता लगाया जा सकता है कि कौन-सा फ़ैमिली मेंबर किस जगह पर है. इसके अलावा इसमें एक पैनिक बटन दिया गया है, जिसे दबाने पर पेरेंट्स या किसी रिलेटिव को मदद के लिए SOS मैसेज किया जा सकता है. यह App एंड्रॉयड स्मार्टफ़ोन्स के अलावा फ़ीचर फ़ोन्स पर भी काम करता है. ये App, iOS और एंड्रॉयड फ़ोन्स पर फ़्री उपलब्ध है.

2. Nirbhaya: Be Fearless

निर्भया कांड के बाद यह App क्रिएट किया गया था. अब इसके अपडेटेड वर्ज़न में कुछ नए फ़ीचर्स जैसे जीओ फेन्स, स्टांप, शेक टू अलर्ट, अनसेफ़ एरिया अलर्ट और हीट मैप जोड़े गए हैं. इसके अलावा अब यह App हर 300 मीटर की दूरी पर लोकेशन भी अपडेट करेगा. इस App को उत्तर प्रदेश पुलिस ने सेफ़ सिटी इनिशिएटिव के अन्तर्गत बनवाया था. आवश्यकता पड़ने पर आप SOS मैसेज भेज देंगे, तो ये App आपके सेलेक्ट किये हुए नंबर्स पर हर दो मिनट पर आपकी लोकेशन भेजता रहेगा. इसके अलावा ये App आपको जिस शहर में आप हैं, उसके बारे में ‘Safe’ या ‘Unsafe’ मैसेज अलर्टस भी भेजेगा, ताकि आप किसी आने वाले ख़तरे को पहले से पहचान पाएं. ये App iOS और एंड्रॉयड फ़ोन्स पर फ़्री उपलब्ध है.

3. I Feel Safe

पिछले साल दिल्ली यूनिवर्सिटी ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए के लिए 'आई फ़ील सेफ़' App लांच किया था. इस मोबाइल एप्लीकेशन को निर्भया ज्योति ट्रस्ट द्वारा संचालित किया जा रहा है. यह स्मार्टफ़ोन यूज़र्स के लिए पर्सनल सेफ़्टी App है और इसे मोबाइल स्टैंडर्ड्स अलायन्स ऑफ इंडिया के साथ मिलकर विकसित किया गया है. आई फ़ील सेफ़ App में वर्चुअल पैनिक बटन को एड किया गया है. मोबाइल फ़ोन इस्तेमाल करने वाला 'सेफ़्टी का पावर बटन' 5 बार दबाकर अलार्म को एक्टिवेट कर सकता है. यह App उस समय भी काम करेगा, जब फ़ोन की स्क्रीन लाॅक होगी या फ़ोन में सिम व Wi-Fi नैटवर्क उपलब्ध नहीं होगा. यहां तक कि इस App को डाटा सब्सक्रिप्शन प्लान की जरूरत भी नहीं होगी. आई फ़ील सेफ़ App इमरजेंसी के समय फ़ोन में पड़े कॉन्टेक्ट्स को नोटिफ़िकेश भेजेगा और करंट लोकेशन के बारे में भी जानकारी देगा. ये App भी iOS और एंड्रॉयड फ़ोन्स पर फ़्री उपलब्ध है.

4. ICE: Personal Safety App

ICE: Personal Safety App कार्यक्षमता के मामले में यह एक बेहतरीन App है. इस App के एक बार ऐक्टिवेट होने के बाद फ़ोन झटकने या हेडफ़ोन निकालने पर यह आपके कॉन्टैक्ट्स को अलर्ट कर देगा. जीपीएस लोकेशन के साथ ईमेल और टेक्स्ट मैसेज भी आपके सिलेक्टेड नंबर्स पर चले जाएंगे. जब तक इसे बंद न कर दिया जाए, तब तक हर मिनट पर अपडेट्स जाते रहेंगे. हर अलर्ट मैसेज में जीपीएस लोकेशन, स्ट्रीट अड्रेस (अगर उपलब्ध हो) और 30 सेकंड की ऑडियो रिकॉर्डिंग होती है. इसके अलावा ये आपकी लोकेशन के आस-पास मौजूद हॉस्पिटल्स और पुलिस स्टेशन की जानकारी भी अपडेट करेगा. साथ ही ये आपको हेल्थ टिप्स और सेल्फ़ डिफ़ेंस की तकनीक भी बताता रहेगा. ये App भी एंड्रॉयड फ़ोन्स पर फ़्री उपलब्ध है.

5. Chilla – Anti Rape Women App

यह ऐप चीखने-चिल्लाने को ख़तरे के सिग्नल के तौर पर लेता है और एक्टिवेट हो जाता है. साथ ही ये आपके फ़ोन के इमरजेंसी कॉन्टैक्ट्स को आपकी लोकेशन व टेक्स्ट मैसेज भेज देता है. इसके अलावा इस App के पावर बटन को पांच बार प्रेस करके ऑन किया जा सकता है. ये App उस वक़्त भी काम करता है, जब आपके फ़ोन की बैटरी चार्ज न हो या फ़ोन स्विचऑफ़ हो. इस App की मदद से न सिर्फ इमरजेंसी नंबर्स पर मैसेज जाएगा, बल्कि ऑटो कॉल और मेल भी जायेगी. ये App भी एंड्रॉयड फ़ोन्स पर फ़्री उपलब्ध है.

अगर आपके फ़ोन में नहीं है कोई भी सेफ़्टी App, तो अभी इनको डाउनलोड करिए और सुरक्षित रहिये.

Source: mtvindia