कई ऐसी प्रजातियां हैं, जो या तो पूरी तरह से खत्म हो चुकी हैं या खत्म होने की कगार पर हैं. लेकिन भारत एक ऐसा देश है, जहां दूसरे देशों की तुलना में जंगली जानवरों की कई प्रजातियां पाई जाती हैं. भारत में बाघों को आसानी देखा जा सकता है. आप चाहे माने या न माने, लेकिन भारत कई लुप्तप्राय प्रजातियों का घर भी माना जाता है. इनमें से अकेले 1400 प्रजातियां तो बड़ी बिल्ली की ही हैं. शेरों की करीब 40 प्रजातियां देश के नेशनल पार्कों में ही देखने को मिल जाती हैं.

Source: hdwallpaperdownload

1. Bandhavgarh National Park, Madhya Pradesh

100 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला बांधवगढ राष्ट्रीय उद्दान (Bandhavgarh National Park, Madhya Pradesh) मध्यप्रदेश के उमरिया जिले में स्थित है. इस पार्क को 1968 में नेशनल पार्क बनाया गया था. इस पार्क में शेर आसानी से देखा जा सकता है. इस पार्क में 50 से भी ज्यादा शेर रहते हैं. यह पार्क साल में 9 महीने (अक्टूबर से जून) ही खुलता है. अगर आपको यहां शेर देखने हैं. तो अप्रैल से जून का टाइम बेस्ट है. भरी गर्मी में ये बहार ही रहते हैं इसलिए इनको आसानी से देखा जा सकता है. इस टाइम तापमान 40-45 डिग्री सेल्सियस रहता है. शेर के अलावा आप यहां चीता, लोमड़ी, भालू, हिरन आदि जंगली जानवर देख सकते हैं. इस पार्क के सबसे पास 197 किलोमीटर दूर जबलपुर एयरपोर्ट स्थित है.

2. Ranthambore National Park, Rajasthan

Reflection Ranthambhore 's Tiger Follow us on @ranthambhorepark #ranthambore #wildlifephotography #Tiger

A photo posted by Ranthambore National Park (@ranthambhorepark) on

रणथंभौर नेशनल पार्क भारत का सबसे बड़ा पार्क है, जो 1,334 स्क्वायर किलोमीटर क्षेत्र में फैला हुआ है. यह पार्क दुनिया भर में बाघों की मौजूदगी के कारण जाना जाता है और भारत में इन जंगल के राजाओं को देखने के लिए भी सबसे अच्छा स्थल माना जाता है. रणथम्भौर में दिन के समय भी बाघों को आसानी से देखा जा सकता है. रणथम्भौर अभयारण्य की यात्रा करने का सबसे अच्छा समय नवम्बर और मई के महीने हैं. इस शुष्क पतझड़ के मौसम में जंगल में विचरण करते बाघ आसानी से दिखाई देते हैं और उन्हें पानी के स्रोतों के आसपास देखा जा सकता है. वाइल्डलाइफ फोटोग्राफर्स के लिए यह बेस्ट पार्क है. इस पार्क में कई पानी के स्रोत हैं, जिनके आस-पास शेर और चीते पानी पीते दिखाई देते हैं. रणथंभौर पार्क साल के 9 महीने (अक्टूबर से जून) के टाइम खुलता है. लेकिन अगर शेर-चीते देखने हैं तो नवम्बर और मई का टाइम बेस्ट है. यहां का तापमान 35-40 डिग्री सेल्सियस रहता है. इसके नज़दीक जयपुर एयरपोर्ट है.

3. Kanha National Park, Madhya Pradesh

यह भारत का एक प्रमुख राष्ट्रीय उद्यान हैं. मध्य प्रदेश अपने राष्ट्रीय पार्को और जंगलों के लिए प्रसिद्ध है. यहां की प्राकृतिक सुन्दरता और वास्तुकला के लिए विख्यात कान्हा पर्यटकों के बीच हमेशा ही आकर्षण का केन्द्र रहा है. यह अलग-अलग प्रजातियों के पशुओं जैसे बारहसिंघा, लुप्त होती हिरन की एक विशेष प्रजाति का भी घर है. जीव-जन्तुओं का यह पार्क 1945 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है. यहां पर टाइगर को देखने का मज़ा हाथी की सवारी पर ही है. यह पार्क अक्टूबर से जून तक खुलता है, लेकिन बाघों और चीतों को देखने के लिए अप्रैल से जून का टाइम बेस्ट है. इस टाइम यहां का तापमान 36 डिग्री सेल्सियस रहता है. इसके नज़दीक जबलपुर एयरपोर्ट है.

4. Jim Corbett National Park, Uttarakhand

जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क भारत का एक महत्वपूर्ण पार्क हैं. इस पार्क में हाथी, चीता, शेर आदि रहते हैं. पार्क के प्राकृतिक पहाड़ों में चीते दिखाई देते हैं. विभिन्न प्रकार की नाकॅटरनल बिल्लियां यहां पाई जाती हैं. इसके अलावा अनेक जंगली बिल्लियां भी मिलती हैं. टाइगर को देखने के लिए यहां मार्च से जून के बीच का टाइम बेस्ट है. इस टाइम यहां का तापमान 29 डिग्री सेल्सियस रहता है. यहां से 50 किलोमीटर दूर पंतनगर एयरपोर्ट स्थित है. यहां आपको हाथियों की सवारी की सुविधा भी मिलेगी.

5. Satpura National Park, Madhya Pradesh

सतपुड़ा राष्ट्रीय पार्क मध्यप्रदेश के होशंगाबाद जिले में लगभग 525 वर्ग किमी के क्षेत्र में फैला हुआ है. यह सन् 1983 में स्थापित किया गया था. सतपुड़ा नेशनल पार्क में कृष्ण मृगों की संख्या सबसे अधिक है. हालांकि इस पार्क के बारे में ज्यादा लोग नहीं जानते हैं. इस पार्क में आप पैदल चलकर पूरे पार्क को घूम सकते हैं. गर्मियों में यहां स्थित नदी के किनारे टाइगर देखने को मिलते हैं. इस टाइम यहां का तापमान 40 डिग्री सेल्सियस रहता है. इसके सबसे पास भोपाल एयरपोर्ट है.

Feature Image Source: worldwildlife