अन्तरिक्ष आज भी अनगिनत रहस्यों का खजाना है. हर बार धरती के किसी न किसी कोने से ये ख़बरें आती हैं कि यहां आसमान में UFO यानि Unidentified Flying Object दिखाई दिया है. कई लोग इसे उड़नतश्तरी भी कहते हैं.

दुनिया भर में हर साल लगभग 70,000 बार UFO देखे जाते हैं. अगर देखा जाए तो दिन भर में 192 UFO हर दिन दुनिया के किसी न किसी कोने में देखे जाते हैं. ऐसा कहा जाता है कि एलियंस भी धरती वासियों को जानना चाहते हैं, जैसे हम उन्हें समझना चाहते हैं.

Source: NBCN

वैज्ञानिकों ने कोई पुख्ता प्रमाण नहीं दिया है कि एलियंस होते हैं या नहीं. अकसर कुछ ऐसी चीज़ें आसमान में दिखती हैं जिनका रिश्ता एलियन और UFO से जोड़ दिया जाता है. जब दुनिया भर में UFO देखे जाने के दावे किये जाते हैं तो हमारा देश कैसे पीछे रहता? हमारे यहां भी पांच बार UFO देखे गए हैं.

अब सही या झूठ का तो पता नहीं पर इन तस्वीरों, वीडियोज़ और लोगों के बयानों से तो लगता है कि भारत भी एलियंस के का Favorite डेस्टिनेशन है, तभी तो उन्होंने अपने Spaceship को इन जगहों के पास से गुज़ारा है.

1. 3 अक्टूबर 1957 मानभूम, बिहार

Source: ESO (Representative Image)

3 अक्टूबर 1957 की रात में बिहार के मानभूम स्थित काडोरी, बोरसा और मंगाल्दा गांव के लोगों ने आसमान में अजीब तरह की आकृतियों को हवा में तैरते देखा. ये UFO ज़मीन से करीब 500 फ़ीट ऊपर हवा में घूम रहे थे. करीब 800 लोगों ने इस बात की गवाही दी कि आसमान में UFO या उड़नतश्तरी जैसी चीज़ तैर रही थी.

2. 29 October, 2007 पश्चिमी कोलकाता

2007 में पश्चिमी कोलकाता में दूसरी बार UFO देखे गए. इस घटना को लोगों ने कैमरे में कैद भी किया. इस बार दो एक ही आकार के UFO थे. प्रत्यक्षदर्शियों का कहना था कि विमान तेज़ी से अपना रंग बदल रहा था. बाद में लोगों ने ये भी कहा कि दो अलग-अलग चमकने वाले हिस्से दरअसल एक ही विमान के दो भाग थे. कई चैनलों पर इस घटना की वीडियो चलाई गई थी.

3. 4 August, 2013, लद्दाख, जम्मू और कश्मीर

हमारे ग्रह से अलग भी किसी ग्रह पर जीवन है. इसे वैज्ञानिक अभी भले ही स्वीकार न पा रहे हों लेकिन कुछ आकाशीय घटनाओं को नज़रंदाज़ नहीं किया जा सकता. भारत-चीन बॉर्डर पर ऐसी एक वीडियो शूट की गई जिसमें अलग-अलग रंग की आकृतियां हवा में तैरती नज़र आ रही हैं. ऐसा माना जा रहा है इस वीडियो को इन्डियन आर्मी ने पेट्रोलिंग के वक़्त शूट किया है.

The Hindu के अनुसार चार अगस्त के दिन उसी समय अलग-अलग जगहों पर लोगों ने कुछ विचित्र आकृतियों को आसमान में उभरते देखा था. कुछ सैन्य अधिकारियों ने कहा कि ये चाइनीज़ ड्रोन भी हो सकते हैं लेकिन चीन के अधिकारियों ने कहा कि हमने कोई ड्रोन नहीं भेजा है.

4. 10 जनवरी 2014, मुंबई

Lorenzo Ceszar एक Ufologist हैं, उन्होंने 10 जनवरी 2014 को लगभग वैसी ही आकृतियों को कैमरे से शूट किया जैसी 2007 में पश्चिमी कोलकाता में दिखी थीं. हालांकि मेन स्ट्रीम मीडिया ने इस घटना पर ध्यान नहीं दिया था. Lorenzo Ceszar के YouTube चैनल पर बहुत से लोगों के Comments आये, जिन लोगों ने कुछ ऐसा ही उस दिन देखा था. कुछ लोगों ने ये भी कहा कि ये महज़ चमकने वाले गुब्बारे हैं जो हवा में तैर रहे हैं.

5. 4 अगस्त 2015 कानपुर, उत्तर प्रदेश

कानपुर के एक युवक का बयान सुर्ख़ियों में तब आया जब उसने कहा कि उसने UFO की फ़ोटो खींची है. दरअसल वो यूं ही आसमान की फ़ोटोज़ खींच रहा था तभी अनजाने में उससे UFO की तरह दिखने वाली कोई आकृति क़ैद हो गई. उसके बाद दर्जनों मीडिया चैनल्स ने उस लड़के का इंटरव्यू लिया. उसने कहा कि उसने फ़ोटो खींचने में कोई स्पेशल इफ़ेक्ट नहीं यूज़ किया है.

अब सच क्या है ये तो देखने वाले लोग जानें, लेकिन इन वीडियो और फ़ोटोज़ को देखने के बाद तो यही लग रहा है कि भारत में UFO ज़रूर आते होंगे.

Article Source: India.com