मुंबई मिरर की एक रिपोर्ट के अनुसार, बीते बुधवार की रात को पब्लिक टॉयलेट फ़ौरन ख़ाली न करने की वजह से 59 वर्षीय फ़ूलचंद यादव की हत्या कर दी गयी. ये घटना मुंबई के वडाला ईस्ट के संगम नगर की है, जहां सार्वजनिक शौचालय की कमी के कारण अकसर लोगों को कतार में खड़े हो कर अपनी बारी का इंतज़ार करना पड़ता है.

जब फ़ूलचंद यादव काफ़ी देर तक टॉयलेट से बाहर नहीं आये, तो बाहर प्रतीक्षा कर रहे है शाकिर अली शेख़ ने उन्हें फ़ौरन शौचालय ख़ाली करने को कहा.

Source: SACHIN HARALKAR/ MUMBAI MIRROR

बाहर निकलने पर दोनों के बीच बहस हुई पर किसी तरह स्थानीय लोगों ने मामले को ठंडा कराया. लेकिन वडाला के एक TT पुलिस अधिकारी का कहना है कि रात 9:30 बजे के क़रीब जब यादव अपने घर लौट रहे थे, तब शेख़ ने उस पर हमला किया और वो नाले में गिर गए, जिस कारण उनकी मौत हो गई.

Source: Representational Image

तुरंत ही यादव को हॉस्पिटल पहुंचाया गया, लेकिन वहां डॉक्टर्स ने उनको मृत घोषित कर दिया गया. केस दर्ज होते ही अभियुक्त को गिरफ़्तार कर लिया गया. यादव के पुत्र, सत्येंद्र का कहना है कि मोहल्ले में पर्याप्त शौचालय न होने की वजह से ऐसी दुर्घटना हुई ही. अपने पिता की मौत के लिए अब वो इंसाफ़ चाहते हैं.

Source: Indiatimes