परवाज़ के लिए पर नहीं, नीला शामियाना और ताकत-ए-परवाज़ ही काफ़ी है.

2015 में Bird Photographer of The Year प्रतियोगिता की शुरुआत हुई थी. उस साल भी कई फ़ोटोग्राफ़र्स ने इसमें हिस्सा लिया था. इस प्रतियोगिता के Chief Executive Andy का कहना है कि इस प्रतियोगिता का मुख्य उद्देश्य है Bird Photographers को पहचान दिलाना और परिंदों का संरक्षण. इस प्रतियोगिता को जीतने वाले को 6,500 डॉलर इनाम के रूप में दिए जाते हैं. इसके अलावा कुछ Equipment और Merchandise भी दिए जाते हैं.

इस साल इस प्रतियोगिता को मेक्सिको के Alejandro Prieto Rojas ने जीता. प्रतियोगिता में शामिल कुछ बेहतरीन तस्वीरों को हमने छांटा हैं. देखिये और कुछ पलों के लिए मन को बांवरे परिंदा सा उड़ने दीजिये-

1. Sunset के बाद Flamingos गज़ब के ख़ूबसूरत लगते हैं.

2. साथी साथ हो तो मुश्किल की क्या बात है?

3. इस उड़ान की कोई मंज़िल नहीं...

4. मां कोई भी हो, वो प्यार से ही खिलाती है.

5. बगीचे में नन्हा पड़ोसी...

6. उड़ान से पहले छलांग ज़रूरी है.

7. इतना ही श्वेत होता है इनका मन!

8. क्या तो तस्वीर खिंची है!

9. पता नहीं किसका इंतज़ार है इन्हें!

10. Perfect Landing!

11. खाने से पहले बातें भी करते हैं क्या?

12. प्यार का दूसरा नाम है ये...

13. शायद ये सूरज को आवाज़ लगा रही है!

14. पानी पर चलने का हूनर.

15. दिन भर की थकान मिटाना ज़रूरी है.

16. फ़ोटोग्राफ़ी प्रतियोगिता के विजेता...

17. आसमान की ऊंचाईयों से लेकर ज़मीन की गहराइयों को छू सकते हैं.

18. हर दल का एक नेता होता है!

19. धुंध के बीच से झांकती ज़िन्दगी...

20. रात अकेली है...

21. ये वो जगह है जहां इंसान कम और परिंदे ज़्यादा मिलते हैं...

22. ये मछलियां हैं या परिंदे?

23. पेट के लिए झुकना पड़ता है...

24. झील ने भी परिंदे की रंगत अपना ली...

25. इन पांवों में बेड़ियां नहीं हैं...

26. यहां कोई हवाईजहाज़ नहीं पहुंच सकता!

27. लड़ाई तो लड़ाई होती है, चाहे ज़मीन पर हो या पानी में!

28. मां को पुकारते नन्हें शैतान...

29. मासूमियत देखकर अपने अंदर के शैतान को भूल जाआगे!

30. स्वर्ग कुछ ऐसा ही दिखता होगा!

31. क्या इन परों में ख़्वाब कैद होंगे?

32. फ़ोटोग्राफ़र की दाद देनी पड़ेगी!

33. जज़्बा देखो Size नहीं!

34. आईने में संवरना सबका हक़ है भाई!

35.

36.

37. ईमानदार निकला ये तो, लालची नहीं.

38. सितारों वाला आसमान नहीं है ये...

39. इससे प्यारी चीज़ आज नहीं देखोगे!

40. परिंदे भी बैकग्राउंड देखते हैं!

41. किसी चितेरे की पेंटिंग नहीं फ़ोटू है ये!

42. उल्लू को उल्लू समझने की ग़लती इंसान ही करते हैं!

43. इसे बनानेवाले ने फ़ुर्सत से बनाया होगा...

44. इन्हें इस बात कि चिंता होगी कि ये इंसान कब सीखेंगे?

45. ज़िन्दगी की हर उड़ान में सफ़ल हो तुम!

46. कुदरत में कितनी ख़ूबसूरत चीज़ें हैं!

47. शरीर से उल्लू पर आंखें शेर जैसी!

48. आंखों के सागर...

49. चोरी पकड़ी गई बेटा!

50. इंसानों द्वारा बनाए बल्ब एक तरफ़, इनके परों की रौशनी एक तरफ़...

51. ये तो कलाबाज़ निकले!

52. ये तो Family Photo है!

53. ये जनाब औरों से पीछे रह गए!

54. क्या तो मुस्कान है!

55. प्रकृति हमें अकसर चौंका देती है...

56. मम्मी की सवारी में अलग मज़ा है!

57. कौन जीता कौन हारा, ये मालूम नहीं!

58. डाइविंग का शौक़ परिंदे भी रखते हैं!

59. यहां कौन किससे जूझ रहा है, कहना मुश्किल है!

60. हम निशब्द हो गए अब!

अगर आपके पास भी हैं कुछ ऐसी ही बेहतरीन तस्वीरें तो हमसे शेयर ज़रूर करें.

Source: Bored Panda