अगर आप 'घरेलू हिंसा' से अब तक ये समझते हैं कि ये सिर्फ़ महिलाओं के साथ होती है, तो ये आंकड़ें आपकी सोच बदल देंगे. सिर्फ़ उत्तरप्रदेश में पिछले एक साल में 6,646 पुरूषों ने पुलिस हेल्पलाइन पर घरेलु हिंसा की शिकायत दर्ज कराई है. ये वो पुरूष हैं, जो अपनी पत्नी की हिंसक प्रवृत्ति से परेशान थे.

हालांकि, महिलाओं के साथ होने वाली घरेलू हिंसा के मामलों की संख्या कहीं ज़्यादा है. पिछले एक साल में पत्नियों के द्वारा 1.53 लाख शिकायतें दर्ज कराई गई हैं. प्रतिदिन औसतन 419 शिकायतें दर्ज करायी जाती हैं.

UP-100 ऑपरेशन के एक साल होने के अवसर पर ये आंकड़े जारी किए गए हैं. एक साल में 43 लाख फ़ोन पुलिस की सहायता के लिए किए गए थे, जिनमें से सात लाख फ़ोन घरेलू हिंसा के लेकर की गई.

आंकड़ों के विश्लेषण से पता चलता है कि शहरी क्षेत्रों से घरेलू हिंसा की शिकायतें ज़्यादा आती हैं.लखनऊ, गोरखपुर. आगरा, कानपुर, इलाहाबाद जैसे शहरों का नाम इस लिस्ट में ऊपर आते हैं. सबसे अधिक शिकायतें गोरखपुर के गोरखपुर कोतवाली इलाके में दर्ज की गई.

Source- timesofindia