बॉलीवुड के कई ऐसे अभिनेता हैं, जो फ़िल्मों में बतौर एक्टर सफ़ल नहीं हुए. अर्जुन रामपाल और उदय चोपड़ा जैसे अभिनेताओं को उनके फ़्लॉप करियर के कारण सोशल मीडिया पर अकसर ट्रोल किया जाता है. लेकिन ट्रोलर्स को अगर पता चल जाए कि फ़िल्मी दुनिया के ये फ़्लॉप एक्टर दूसरे क्षेत्रों में कितने सफ़ल हैं, तो उनका मुंह एकदम बन्द हो जाएगा.

आज हम कुछ ऐसे ही एक्टर्स के बारे में बताते हैं, जिनका फ़िल्मी करियर कुछ ज़्यादा सफ़ल नहीं हुआ, लेकिन आज ये बेहद कामयाब हैं.

1. अर्जुन रामपाल

Source: Awallpapersimages

मॉडलिंग की दुनिया से फ़िल्मी दुनिया में आए अर्जुन रामपाल ने फ़िल्मों में सफ़लता हासिल करने के लिए अपनी तरफ़ से पूरा प्रयास किया. इसके बावजूद उन्हें वो सफ़लता नहीं मिली, जिसके अर्जुन वास्तव में हक़दार थे. फ़िल्मों में असफ़लता मिलने के बाद अर्जुन रामपाल ने Chasing Ganesha नाम की एक इवेंट मैनेजमैंट कम्पनी खोली. इसके अलावा दिल्ली में उनका एक बार भी है. अर्जुन आज अपने व्यापार में बेहद सफ़ल हैं.

2. डीनो मोरिया

Source: Youtube

डीनो मोरिया को भी फ़िल्मी पर्दे पर आए एक लम्बा अरसा हो गया है. शुरुआती फ़िल्मों की सफ़लता के बाद डीनो मोरिया को जब कुछ ख़ास कामयबी नहीं मिली तो उन्होंने एक्टिंग को बाय-बाय कर दिया. इसके बाद डीनो फ़िल्म निर्माता बन गए और अपने प्रोडक्शन हॉउस Clockwork Films के ज़रिए 'जिस्म 2' का निर्माण करवाया. इसके अलावा वो Crepe Station Café नाम के रेस्टोरेंट के मालिक भी हैं. डीनो मोरिया एक फ़िटनेस कम्पनी के भी मालिक हैं.

3. सुष्मिता सेन

Source: Sanjeevnitoday

Miss Universe का ख़िताब जीतने के बाद सुष्मिता सेन रातों-रात लाखों दिलों की धड़कन बन गईं. लेकिन सुष्मिता अपने उस जादू को फ़िल्मों में बरकरार रखने में नाकामयाब रहीं. 'मैं हूं ना', 'बीबी नम्बर 1' और 'मैंने प्यार क्यों किया' जैसी फ़िल्मों को छोड़ दिया जाए तो सुष्मिता सेन की फ़िल्में कुछ विशेष सफ़ल नहीं हुई. इसलिए सुष्मिता सेन ने एक्टिंग करना कम कर दिया और Tantra Entertainment नाम से फ़िल्म प्रोडक्शन हाउस खोल लिया. इसके अलावा उनका दुबई में एक Jewelry Store भी है, जिसकी देख-रेख उनकी मां करती हैं. 

4. उदय चोपड़ा

Source: Newstracklive

बॉलीवुड में अकसर उदय चोपड़ा की एक्टिंग का मज़ाक उड़ाया जाता है. उदय चोपड़ा के खाते में 'मोहब्बतें' और 'धूम' सीरीज़ जैसी सफ़ल फ़िल्में हैं, लेकिन इनमें उदय चोपड़ा की भूमिका सिर्फ़ साइड हीरो की है. एक्टिंग में असफ़ल होने के बाद उदय चोपड़ा निर्माता बन गए हैं और हॉलीवुड में फ़िल्मों का निर्माण कर रहे हैं. उनके द्वारा निर्मित एक टीवी फ़िल्म को Emmy Award के नामित किया गया था. इस टीवी फ़िल्म में मुख्य भूमिका मशहूर हॉलीवुड अदाकारा निकोल किडमैन ने निभाई थी. इसके अलावा उदय चोपड़ा के ही बैनर तले बनी फ़िल्म The Longest Week में Olivia Wilde और Jason Bateman जैसे सितारों ने अभिनय किया है. 

5. ट्विंकल खन्ना

Source: Zeenews

राजेश खन्ना जैसे सुपरस्टार की बेटी होने के बाद भी उन्हें फ़िल्मी दुनिया में कोई विशेष कामयाबी नहीं मिली. इसके बाद ट्विंकल खन्ना लेखिका बन गईं. उन्होंने Mrs. Funnybones नाम की किताब लिखी है, जो बेस्ट सेलर साबित हो चुकी है. इसके अलावा वो DNA और टाइम्स ऑफ़ इन्डिया में कॉलम भी लिखती हैं. अगर इतने पर भी आप उन्हें बेरोज़गार समझते हैं, तो बता दें कि वो एक इंटीरियर डिज़ाइनर भी हैं. उन्होंने रानी मुखर्जी, रीमा सेन, करीना कपूर और तब्बू जैसी मशहूर हस्तियों के घर को सजाया है. इन सब के अलावा ट्विंकल अपने पति अक्षय के साथ Grazing Goat Pictures जैसी फ़िल्म निर्माण कम्पनी की मालकिन भी हैं.

6. साहिल खान

Source: Isahilkhan

साहिल खान का फ़िल्मी करियर भी बिलकुल असफ़ल रहा. उन्होंने 'स्टाइल' और 'एक्सक्यूज़ मी' जैसी फ़िल्मों में काम किया, जिन्होंने बॉक्स ऑफ़िस पर पानी तक नहीं मांगा. लेकिन अब उन्होंने जैकी श्रॉफ़ की पत्नी के साथ 'कर्मा प्रोडक्शंस' नाम से फ़िल्म प्रोडक्शन हाउस खोल लिया है. साहिल ने गोवा में देश का पहला Beach Gymnasium शुरू किया है. इसके अलावा साहिल ऑनलाइन फ़िटनेस ट्रेनिंग भी देते हैं. इस तरह से साहिल खान एक सफ़ल बिजनेसमैन बन चुके हैं और बिना फ़िल्मों में काम किए ही अच्छा पैसा कमा रहे हैं. 

7. जुगल हंसराज

Source: Wikipedia

जुगल ने चाइल्ड ऑर्टिस्ट और बतौर हीरो कई फ़िल्मों में काम किया है, लेकिन अभिनय की दुनिया में वो कुछ ख़ास सफ़ल नहीं हो सकें. इसके बाद जुगल ने निर्देशन की दुनिया में कदम रखा और उन्हें अपनी पहली ही एनिमेशन फ़िल्म 'रोडसाइड रोमियो' के लिए एनिमेटेड फ़िल्म श्रेणी के सर्वश्रेष्ठ निर्देशक का पुरस्कार मिला. 'रोडसाइड रोमियो' ने काहिरा अन्तरराष्ट्रीय फ़िल्म सामारोह में सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म का पुरस्कार भी जीता. बाद में जुगल, करण जौहर की धर्मा प्रोडक्शन के साथ बतौर क्रिएटिव हेड जुड़ गए. 

उम्मीद है कि इनके बारे में पढ़कर, सोशल मीडिया के यूज़र्स इन्हें बेरोजगार कह कर इनका मज़ाक उड़ाना बन्द करेंगे. इन्हें फ़िल्मी दुनिया में भले ही कामयाबी नहीं मिली, लेकिन दूसरे अन्य क्षेत्रों में ये बेहद कामयाब हैं. इनकी ये कामयाबी बहुत से लोगों के लिए प्रेरणा का स्रोत है.

Article Source: Desimartini