इस दुनिया की आबादी 7.5 बिलियन से भी ज़्यादा है. इस दुनिया में विभिन्न जाति, धर्म, सभ्यता, संस्कृति और भाषा के लोग रहते हैं. अलग-अलग संस्कृतियों की मान्यताएं भी अलग हैं. अगर मान्यताओं का आंकलन किया जाए, तो ये साफ़ हो जाता है कि क्रूर से क्रूरतम मान्यता ज़्यादातर औरतों के लिए ही हैं. भारत और भारत के बाहर भी कई देशों में महिलाओं को कई अपमानजनक, पीड़ादायक मान्यताओं से गुज़रना पड़ता है. चाहे वो अपनी वर्जिनिटी का सुबूत देना हो या फिर अपनी पवित्रता का प्रमाण देना हो. हर नियम, क़ानून, मान्यता औरतों के लिए ही है.

महिलाओं से जुड़ी कुछ देशों की क्रूर मान्यताएं-

1. विधवाओं को शुद्धिकरण के लिए सोना पड़ता है एक क्लेनज़र के साथ

केन्या, घाना और युगांडा के कुछ इलाकों में विधवाओं को ये साबित करना पड़ता है कि उनके पति की मौत उनकी वजह से नहीं हुई. अपनी पवित्रता साबित करने के लिए उन्हें एक क्लिनज़र के साथ सोना पड़ता है.

कुछ इलाकों में तो विधवा को अपने मृत पति की देह के साथ 3 दिन सोना पड़ता है और पति के भाईयों के साथ सेक्स करना पड़ता है. मृतक की आत्मा की शांति के लिए एक औरत को इन सभी क्रूर मान्यताओं गुज़रना पड़ता है. इस अवधि के दौरान विधवा को अपने बच्चों से भी मिलने नहीं दिया जाता.

2. ब्रेस्ट-आयरनिंग

Source: Mastakongo
Source: Twitter

कैमरून, नाइजीरिया और दक्षिण अफ़्रीका के कुछ इलाकों में लड़कियों के ब्रेस्ट की इस्त्री किया जाता है. जी, इस्त्री, जैसे कपड़ों की इस्त्री करते हैं वैसे ही. बस इसमें पत्थर, हथौड़े आदि औज़ारों का प्रयोग किया जाता है. ये दर्द लड़कियों को इसीलिये दिया जाता है ताकि उनकी ब्रेस्ट ज़्यादा बड़ी ना हो पाए. कई माएं ही अपनी बेटी की ब्रेस्ट आयरन करती हैं.

3. दातों को छेनी से तराशकर नुकीला बनाना

Source: Pinterest

सुमात्रा की मैनताइवान जनजाति औरतों के दांतों को ब्लेड से तराशकर नुकीला बनाया जाता है. इंडोनेशिया के इस जनजाति की यह मान्यता है कि नुकीले दांतों वाली औरतें ज़्यादा ख़ूबसूरत दिखती हैं. इस तरह की सर्जरी बिना किसी Anesthesia के ही की जाती है.

ये भी शादी के बाद पति को ख़ुश करने के लिए किया जाता है.

4. औरतों का अपहरण कर उनसे विवाह करना

Source: The Hook

Kyrgyzstan में एक बहुत ही घटिया रिवाज़ है. यहां औरतों को ज़बरदस्ती उठाया जाता है और उनकी इच्छा के बिना ही उनसे विवाह किया जाता है. अगर एक आदमी अपनी पसंद की औरत को 2-3 दिन तक अपने साथ रखने में सफ़ल होता है, तो लड़की उसकी हो जाती है. ऐसी ज़्यादातर शादियां असफ़ल ही होती हैं और कई महिलाएं शादी के कुछ महीनों बाद आत्महत्या कर लेती हैं.

5. महिलाओं को नग्न कर उन्हें सबके सामने बुरी तरह पीटना

Source: Reckon Talk

ये ब्राज़ील की कुछ जनजातियों में बहुत ही प्रचलित चलन है. एक औरत को तब तक नग्न करके पीटा जाता है जब तक वो बेहोश न हो जाए. कई बार औरतें इतनी बुरी तरह के पिटाई के कारण मर जाती हैं. जो औरत इस अत्याचार को सह लेती है, उसे शादी के लिए Best Material मान लिया जाता है.

6. ब्रेस्ट और पीठ पर इच्छा या फिर इच्छा के विरुद्ध टैटू बनाना

Source: Reckon Talk

प्राग और ब्राज़ील में लड़कियों के पेट, ब्रेस्ट और पीठ पर टैटू बनाया जाता है. ऐसी मान्यता है कि टैटू वाली लड़कियां ज़्यादा ख़ूबसूरत होती हैं. लेकिन इस मामले में लड़कियों की इच्छा का कोई सवाल नहीं उठता . ज़बरदस्ती उनके शरीर पर टैटू बनाया जाता है ताकि पुरुष उसे पसंद करें.

7. लड़कियों को ज़बरदस्ती किया जाता है मोटा

Source: Pastebin

मॉरिटानिया में लड़कियों को ज़बरदस्ती खिलाया जाता है. यहां मोटी लड़कियां, मोटे धन का पर्याय हैं. इसलिये मोटी लड़कियों को शादी के लिए बेस्ट माना जाता है. नतीजा ये होता है कि घरवाले लड़कियों को ज़बरदस्ती रोज़ाना कम से कम 16 हज़ार कैलोरी खिलाते हैं. इतनी ज़्यादा कैलोरी के कारण लड़कियां बीमार भी हो जाती हैं.

8. नन्हीं लड़कियों के साथ ज़बरदस्ती बनाया जाता है सेक्स संबंध

Source: Comedy Mood

पापुआ न्यू गिनी में है ये अजीब दस्तूर. यहां 10-12 वर्ष के लड़कों को खुली छूट दी जाती है कि वे 6 साल से ऊपर किसी भी लड़की के साथ संबंध बनाए. यहां शादी से पहले सेक्स मंज़ूर है लेकिन शादी से पहले साथ खाने की अनुमति नहीं है.

पितृसत्तामक समाज में स्त्रियों के साथ इतना दुर्व्यवहार देखकर आज बनानेवाला भी शायद दुखी होगा कि जो उसकी सबसे उत्कृष्ट रचना थी, वो ऐसी क्यों हो गई?