दिन प्रतिदिन लिंग अनुपात गिरता जा रहा है. देश में लड़के ज़्यादा हैं और लड़कियां कम. हालांकि हरेक राज्य में ऐसा नहीं है. ख़बर बिहार के भागलपुर जिले की है. यहां के दूरदराज इलाके में एक ऐसा गांव है जहां कोई शादी नहीं करना चाहता.

Source: Shadimubarak

आखिर क्या है वजह?

जगदीश के निकट सन्हौली गांव भागलपुर से तकरीबन 12 किलोमीटर दूर है. इस गांव की आबादी 6000 से ज़्यादा लोगों की है. सुनने में आता है कि यहां बीते दो दशक से शहनाई नहीं बजी. इसकी वजह ये बताई जाती है कि यहां आना जाना बेहद मुश्किल है. इस गांव के रस्ते में एक नदी आती है. नदी का नाम है चांदन.

कहते हैं कि पुल ना होने के कारण यहां लोग अपने लड़कों की शादी नहीं करते. शहर से जोड़ने वाली सड़क ना होने के चलते यहां कोई बारात नहीं आई.

Source: Aajtak

पहले किया था कच्चे पुल का निर्माण

आस-पास के गांव वालों ने मिलकर पहले चांदन नदी पर कच्चे पुल का निर्माण किया था. आपको बता दें कि यह गांव तीन दिशाओं से नदी से घिरा हुआ है. इस सच्चाई को आस-पास के गांवों में रहने वाले लोग जानते हैं, वो अपने बच्चों की शादी यहां करने से इसीलिए कतराते हैं.

हालांकि गांव के लोगों ने कई बार अपने आप पुल बनाये, पर बात नहीं बनी. विकास आज जगह जगह हो रहा है पर सन्हौली एक ऐसे हाशिए पर पड़ा है जहां ना तो राजनेताओं की नज़र जाती है, ना ही व्यवस्थायें पहुंच पाती हैं.

Source: Aajtak