क्या नशा इतना सिर चढ़ जाता है कि कोई किसी बच्चे को होठों पर किस कर ले? क्या नशा इतना ख़तरनाक होता है कि किसी व्यक्ति को ये समझ न आये कि वो सही कर रहा है या ग़लत? हमने अकसर नशे में धुत्त लोगों को अजीब-ओ-ग़रीब हरकतें करते देखा है. असल ज़िन्दगी में भी और वीडियोज़ में भी.

Source- Navbharat Times

कल एक वीडियो सोशल मीडिया साइट्स पर तेज़ी से शेयर किया गया, जिसमें फ़ेसबुक लाइव पर मशहूर गायक पापोन एक बच्ची को होठों पर किस करते दिखे. पापोन आजकल एक Reality Show के निर्णायक मंडल में हैं. ये बच्ची उसी शो की Contestant है. जिस समय ये वीडियो सामने आया, उस समय शो में होली के लिए Fb Live चल रहा था. दिन ख़त्म होते-होते इस घटना के सिलसिले में पापोन का स्पष्टीकरण आ गया और लड़की के पिता का भी बयान आ गया.

पापोन ने घटना पर एक लंबा सा फ़ेसबुक पोस्ट लिखा. पोस्ट में पापोन ने कहा कि उन्होंने बच्ची के प्रति वात्सल्य दर्शाने के लिए ऐसा किया. पापोन का कहना है कि वो प्रेम ज़ाहिर करने में हिचकिचाहट नहीं महसूस करते. इसके साथ ही उन्होंने ये भी लिखा कि अगर उनकी हरकत कहीं से भी ग़लत होती तो वो ख़ुद वीडियो को क्यों प्रमोट करते?

उन्होंने लोगों को इस पूरे वाकये पर सोचने के लिए कहा और ये भी कहा कि इस घटना से उनके और उस लड़की के परिवार पर बहुत बुरा असर पड़ेगा.

पापोन ने फ़ेसबुक पोस्ट पर माफ़ी तो मांग ली, पर क्या ये काफ़ी था?

बच्ची के पिता ने भी पापोन के ही हक़ में बात कही है और कहा है कि पापोन उनकी बेटी के लिए एक पिता जैसे ही हैं.

वीडियो देखकर वक़ील Runa Bhuyan ने पापोन के खिलाफ़ एफ़आईआर दर्ज करवाई. Runa ने इस बात पर भी चिंता ज़ाहिर की कि पापोन की Van में कोई भी महिला नहीं थी.

पापोन के चाहनेवालों ने 40 सोशल मीडिया अकाउंट्स के खिलाफ़ दिसपुर पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज करवाई है. पापोन के चाहनेवालों को लगता है कि ये सब एक षड्यंत्र का हिस्सा है.

Source- Time 8

Facebook Live के वीडियो में सारे बच्चे मस्ती के मूड में दिख रहे हैं और गाने गा रहे हैं, शोरगुल कर रहे हैं. वो बच्ची भी खु़श नज़र आ रही है.

पर पापोन की हरकत के बाद बच्ची के चेहरे पर शिकन साफ़ देखी जा सकती है. अगर आंखें हों तो ये कोई भी देख सकेगा.

पापोन को लगता है कि उनका प्रेम दर्शाने का नज़रिया सही है. पर हमारे देश के कितने परिवार होंगे जहां पापा या मां वात्सल्य दर्शाने के लिए होठों पर किस करते हैं? उस बच्ची को पापोन कितने दिनों से जानते हैं, 2 महीने, चलिये 6 महीने. 6 महीने में इतना लगाव?

Source- NDTV

पापोन के चाहनेवाले या जो भी पापोन को षड्यंत्र का शिकार मान रहे हैं, क्या एक बार उस बच्ची की जगह पर ख़ुद को रखकर नहीं सोच सकते? मुझे कभी अच्छा नहीं लगेगा कि मेरे गुरू(पापोन ख़ुद को उस बच्ची का गुरू बता रहे हैं), शिक्षक या मेंटर मेरे साथ ऐसा करें. न ही ये हमारे घरों में होता है.

हो सकता है कि बच्ची के पिता को पापोन ग़लत न लग रहे हों, पर वो बच्ची उन चंद लम्हों को कभी नहीं भूल पायेगी. पापोन की हरकत को सही ठहराने वालों को अपने निर्णय पर विचार करना चाहिए.