'गाड़ी आज तेरा भाई चलाएगा', 'तू बस बोल किसको तोड़ना है', 'तेरे भाई के पास पैसे की कमी नहीं है', 'भाई अभी चढ़ी नहीं है मुझे', समझ तो गए ही होंगे कि आज हम किस बारे में बात करने जा रहे हैं?

Source: deccanchronicle

ये बात एकदम सच है कि दारू पीने के बाद इंसान की असलियत बाहर आ ही जाती है. नशे में इंसान अक्सर सच बोलने लगता है. अगर कभी किसी हॉउस पार्टी में शामिल हुए हों तो आपने देखा ही होगा, दो पैग अंदर जाते ही सामने वाले के अंदर की अंग्रेज़ी एक झटके में बाहर आ जाती है. जब तक उतरती नहीं है, भाई लोग अंग्रेज़ बने फ़िरते हैं. कभी-कभी तो नशे में ऐसी-ऐसी भाषाएं भी निकल पड़ती हैं जो किसी ने कभी सुनी भी न हो. नशा है ही ऐसी चीज़ कि गूंगा भी बोलने लगता है.

Source: zeenews

बात आज भाषा की हो रही है तो 'Journal of Psychopharmacology' में छपी रिपोर्ट के मुताबिक़, एक स्टडी में पता चला है कि एक या दो पेग पीने के बाद लोग दूसरी लैंग्वेज बोलने लगते हैं. शराब जैसे ही हमारे दिमाग पर चढ़ने लगती है, तो हमारी Foreign language भी सुधरने लगती है.

Source: vox.com

हाल ही में लिवरपूल विश्वविद्यालय, मास्ट्रिच विश्वविद्यालय और किंग्स कॉलेज लंदन के शोधकर्ताओं ने डच लैंग्वेज सीख रहे जर्मन मूल के 50 छात्रों पर एक स्टडी की. इस दौरान इन प्रतिभागियों में से कुछ को ऐल्कोहल वाली डोज़ दी गयी, जबकि कुछ को बिना ऐल्कोहल वाली डोज़ देने के बाद कुछ मिनटों के लिए डच भाषा में बातचीत करने को कहा गया. इस दौरान शोधकर्ताओं ने इस वार्तालाप को रिकॉर्ड कर लिया था.

Source: twitter.com

इसके बाद शोधकर्ताओं ने इसके मूल्यांकन के लिए डच भाषा के दो विशेषज्ञों को बुलाया. इस दौरान ये विशेषज्ञ इस बात से अनजान थे कि प्रतिभागियों को शराब के डोज़ दिए गए हैं. इस दौरान विशेषज्ञों ने पाया कि बिना ऐल्कोहल डोज़ वाले छात्रों के मुक़ाबले, ऐल्कोहल डोज़ वाले छात्र अच्छी डच भाषा बोल रहे हैं. खासकर उनका उच्चारण भी बेहतर था. इन परिणामों से शोधकर्ताओं ने साबित किया कि कुछ शराबें दूसरी भाषा बोलने की क्षमता में सुधार कर सकती हैं.

Source: healthyburnett

साइंस डेली के अनुसार मास्ट्रिच विश्वविद्यालय के डॉ. फ्रित्ज़ रेनर का कहना है कि 'प्रतिभागियों को शराब की बेहद हल्की डोज़ दी गई थी. लेकिन ये ज़रूरी नहीं कि अधिक मात्रा में शराब पीने से आपकी Foreign language सुधरने लगे'.

Source: medicalxpress

भले ही ये बहस का विषय हो सकता है कि शराब पीने से आपकी स्किल्स बढ़ती है या नहीं, लेकिन ये बात भी सच है कि शराब पीने के बाद किसी से बात करने में आप आत्मविश्वास से भरे नज़र आते हैं. इंसान के अंदर की झिझक ख़त्म हो जाती है.

Source: nbcnews

शोधकर्ताओं का मुख्य लक्ष्य इन विरोधाभासी सिद्धांतों का परीक्षण करना था. यहां उनका मकसद ये नहीं था कि शराब आपकी Foreign language सुधारने में सबसे बड़ी मददगार है, बल्कि ये था कि शराब इंसान के दिमाग पर किस तरह का असर डालती है.

Source: cntraveler.com