रविवार को श्रीलंका के प्रेमदासा स्टेडियम में खेले गए निदाहास ट्रॉफ़ी का फ़ाइनल भला कौन भूल सकता है. दिनेश कार्तिक ने आख़िरी गेंद पर यादगार छक्का लगाकर भारत को जीत दिलाई. फ़ाइनल मैच में भारत ने टॉस जीतकर बांग्लादेश को बैटिंग का न्योता दिया. बांग्लादेश ने निर्धारित 20 ओवरों में भारत के समक्ष 166 का लक्ष्य रखा, जवाब में भारत ने कप्तान रोहित शर्मा के 56 रन और दिनेश कार्तिक के शानदार 29 रन की बदौलत बांग्लादेश के फ़ाइनल जीतने के सपने को चकनाचूर करते हुए दूसरी बार निदाहास ट्रॉफ़ी पर कब्ज़ा किया.

Source: financialexpress

भारतीय युवा टीम के लिए निदाहास ट्रॉफी जीतना जितना महत्वपूर्ण था, श्रीलंका के लिए भी ये ट्रॉफ़ी उतनी ही ऐतिहासिक थी. निदाहास ट्रॉफ़ी का नाम सुनकर सभी को यही लग रहा होगा कि ये सीरीज़ किसी मोबाइल कंपनी का नाम या किसी बैंक या फिर किसी रियल इस्टेट कंपनी के नाम से खेली जा रही होगी. लेकिन ऐसा नहीं है. दरअसल, श्रीलंका की लोकल लैंग्वेज सिंहली में निदाहास का मतलब होता है 'आज़ादी'. इस समय श्रीलंका अपनी आज़ादी के 70वें साल का जश्न मना रहा है. इसीलिए निदाहास ट्रॉफ़ी श्रीलंका के लिए बेहद ऐतिहासिक थी.

Source: thelallantop

क्रिकेट को जेंटलमेन गेम भी कहा जाता है. लोग उम्मीद भी यही करते हैं कि खिलाड़ी मैदान पर खेल-भावना के साथ क्रिकेट खेलें. लेकिन निदाहास ट्रॉफ़ी के दौरान बांग्लादेश की टीम ने जेंटलमेन जैसा कोई काम ही नहीं किया. चाहे जीत की ख़ुशी में नागिन डांस करना हो या श्रीलंका के खिलाड़ियों के साथ व्यवहार या फिर कप्तान शाकिब-अल-हसन द्वारा टीम को पवेलियन ले जाना. ये सब करने के बाद बांग्लादेश की टीम अपनी नासमझी और फुहड़पन्न के चलते अपनी भद्द पिटवा चुकी है.

Source: cricketaddictor

लेकिन भारतीय टीम ने फ़ाइनल में जीत के बाद कुछ ऐसा किया जो आजतक क्रिकेट के इतिहास में कभी नहीं हुआ. अक्सर जीत के बाद हर खिलाड़ी अपने हाथ में देश का झंडा लेकर जश्न मनाता है, लेकिन टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने अपने हाथों में श्रीलंका का झंडा लेकर मैदान के चक्कर लगाए, जवाब में श्रीलंका के क्रिकेट प्रेमियों ने भी इंडिया के इस कदम का ज़ोरदार स्वागत किया. टीम इंडिया ने अपनी जीत और श्रीलंका के आज़ादी के जश्न को एक साथ मनाकर पूरी दुनिया के क्रिकेट प्रेमियों ये दिखा दिया कि हम यूं ही दुनिया की नंबर वन टीम नहीं है.

Source: thelallantop

इंडियन टीम के कप्तान रोहित शर्मा के इस कदम से बांग्लादेश की टीम को सबक मिला होगा कि क्रिकेट को जेंटलमेन की तरह ही खेलना चाहिए. टीम इंडिया की इस तस्वीर को देखकर क्रिकेट की नयी पीढ़ी को खेलभावना के साथ क्रिकेट खेलने की प्रेरणा मिलेगी.

आप भी देखिये दिनेश कार्तिक का वो शानदार विजयी छक्का:


Source: laughingcolours