हर दिन न जाने कितने ही विज्ञापनों में प्रधानमंत्री से ले कर बॉलीवुड स्टार तक, एक ही बात को दोहराते हुए दिखाई देते हैं कि 'अपने घर में शौचालय बनवाइए, अपने घर में शौचालय बनवाइए. खुले में शौच करने से गंदगी फैलती है.' पर हम भी पक्के ढीठ हैं, जो इतने विज्ञापनों के बावजूद सुबह बोतल उठा कर कभी खेतों की तरफ़, तो कभी रेल की पटरियों की तरफ़ निकल जाते हैं.

ख़ैर, शौचालय के ऐसे ही मुद्दे को उठाने के लिए अक्षय कुमार 'टॉयलेट एक प्रेम कथा' नाम से एक फ़िल्म लेकर आ रहे हैं.

फ़िल्म निर्माताओं की मानें, तो कई स्टार इस फ़िल्म से अपना पल्ला झाड़ चुके थे, पर सन्देश को देखते हुए अक्षय कुमार इस फ़िल्म से जुड़ने के लिए राज़ी हुए.

इस फ़िल्म में काम करने के दौरान अक्षय कुमार देश में शौचालय की समस्या से रूबरू हुए, जिसके बाद उन्होंने आंकड़ों और तथ्यों के आधार पर एक वीडियो बनाया और इस समस्या की तरफ़ लोगों का ध्यान दिलाने की कोशिश की.

Source: indiatimes