दीपावली का मौक़ा है ऐसे में सरकारी कर्मचारी बोनस की आस लगाए बैठे हैं. सरकारी विभागों में कर्मचारी कभी 20 प्रतिशत, तो कभी 30 प्रतिशत बोनस की अफ़वाह उड़ाने में लगे हुए हैं. ख़ैर, ये तो हर ऑफ़िस की पुरानी कहानी है, लेकिन ज़रा सोचिये की सुबह आंख खुलने के साथ ही आपके मोबाइल पर दो बार सैलरी क्रेडिट के मैसेज आएं, तो आप ख़ुशी से झूम उठेंगे न.

Source: indiatvnews

पंजाब के अमृतसर के सरकारी कर्मचारियों के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ. मोबाइल पर अकाउंट में दो बार सैलरी क्रेडिट होने का मैसेज देख कर्मचारियों की ख़ुशी का ठिकाना न रहा. कर्मचारियों को लगा कि सरकार ने उन्हें दिवाली का बोनस दिया है, लेकिन उनकी ये ख़ुशी कुछ पल के लिए ही थी.

Source: newindianexpress

दरअसल, कर्मचारी सैलरी के मेसेज के बाद बोनस का इंतजार कर रहे थे कि तभी सैलरी क्रेडिट का एक और मेसेज देख कर्मचारी ख़ुशी से झूम उठे. पर जिसे कर्मचारी बोनस समझकर ख़ुश हो रहे थे, वो बोनस नहीं, बल्कि ऐसा सॉफ़्टवेयर में तकनीकी गड़बड़ी के कारण हुआ था. जब कर्मचारियों को इसकी सूचना मिली तो उनके बीच मायूसी छा गई.

Source: sbs.com

ज़िला कोष अधिकारी ए.के. मैनी ने सभी सरकारी कार्यालयों के प्रमुखों को नोटिस भेज कहा कि कर्मचारियों के बैंक खातों में भूल से अतिरिक्त रकम चली गई है और वो इस पैसे को न निकालें. जल्द ही एक सैलरी को वापस ले लिया जाएगा.

Source: zeebiz.com

चलो एक पल के लिए ही सही कम से कम अमृतसर के सरकारी कर्मचारियों को सैलरी के बराबर बोनस का एहसास तो हुआ, लेकिन ये बात भी सच है कि सरकारी विभागों में इस तरह की लापरवाही आम बात है.

Source: indiatimes