कोई गीतकार जब गाना लिखता है, तो उसकी प्रेरणा इमोशंस होते हैं. प्रकृति हो सकती है, हमारे रिश्ते हो सकते हैं. हवा, नदियां, वादियां, खूबसूरती या देशभक्ति. पर क्या कभी किसी को Mutual Fund पर गाना लिखते सुना है? गोल रोटी, पिज़्जा, राजमा चावल. हां ये ​भी किसी के लिए प्रेरणा हो सकते हैं. ये गाने हैं मशहूर इंडियन रैपर बाबा सहगल के. विश्वास मानिए, ये अपने रैप से ज़्यादा उसके बोल के लिए मशहूर हैं. इनके गाने सुन कर कान से खून आना आम है. कोई बड़ी बात नहीं कि टॉयलेट, कमोड या बाथरूम टाइल्स पर भी बाबा गाने लिख दें.

हमने कोशिश की बाबा सहगल के Lyrics की टक्कर का कुछ लिखने की, पर हमसे ये हो न पाया. खैर बाबा सहगल के कुछ गानों की पंच लाइन को लेते हुए हमने कुछ उसी अंदाज़ में लिखने की कोशिश की है. बताइए किसके Lyrics ज़्यादा घटिया हैं!

Lovely Designs By- Shruti Mathur