5 राज्यों में आये विधानसभा चुनाव के परिणामों ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को एक बड़े नेता के रूप में स्थापित किया है, जिनकी चमक के सामने विरोधियों की एक नहीं चल रही है. आलम ये हो गया है कि विपक्षी दल चाह कर भी प्रधानमंत्री का विरोध नहीं कर पा रहे.

अब जैसे राज्यसभा का ही हाल देखिये. कई दिनों तक चुनावों में व्यस्त रहने के बाद जब प्रधानमंत्री संसद पहुंचे, तो विरोधियों ने तंज कसते हुए ज़ोर से नारे लगाए, 'देखो-देखो कौन आया'. उन्हें लगा कि ये नारे लगाकर वो मोदी जी पर चुटकी ले लेंगे, लेकिन मामला उल्टा पड़ गया. उनके नारों के बदले बीजेपी सांसदों ने जवाब दिया, 'भारत का मां शेर आया'. थोड़ी ही देर में विपक्षी अपने आप चुप हो गए.

ऐसा लगता है कि सड़क से संसद तक, कांग्रेस के लिए गंगा उल्टी बह रही है. इस बात पर एक ही लाइन याद आ रही है, 'चौबे जी चले थे छब्बे बनने, दूबे जी बन कर लौटे.'

Source: InternetHindu