हिमाचल प्रदेश को निर्विवाद रूप से भारत के सबसे खूबसूरत राज्य के तौर पर गिना जाता है. नदियों, पहाड़ों, प्रकृति और भारतीय कल्चर का आनंद उठाने के लिए हर साल हज़ारों विदेशी भी इस देवभूमि पर अपने कदम रखते हैं. यूं तो हिमाचल के ज्यादातर जगहों के बारे में घुमक्कड़ टूरिस्ट्स को मालूम होता ही है लेकिन आज भी ऐसी कई जगहें हैं, जो यूं तो उपलब्धियों के मामले में काफी आगे हैं और कुछ हद तक कमर्शियल होने के बावजूद लोग इस जगह से अंजान हैं.

बीर भी एक ऐसी ही जगह है. ये जगह हिमाचल की अन्य जगहों जितनी मशहूर नहीं है, शायद यही कारण है कि इसकी जबरदस्त उपलब्धियां के बारे में भी लोग कम ही जानते हैं. बीर दरअसल एशिया के पहले और दुनिया की दूसरी सबसे बेहतरीन पैराग्लाइडिंग साइट के तौर पर जाना जाता है, यानि अगर आपको एक पहाड़ से दूसरे पहाड़ तक हवा में उड़ने का शौक है तो ये जगह आपके लिए ही है.

Source: Travelbirbilling

दिल्ली से आसानी से बैजनाथ के लिए डीलक्स, सेमी डीलक्स और साधारण बसें पकड़ी जा सकती हैं. बैजनाथ से बीर की दूरी केवल 12 किलोमीटर है जिसे लोकल बस (किराया 20 रुपये) के द्वारा दो घंटे में तय किया जा सकता है. या फिर टैक्सी ( किराया 250 रुपये) भी ली जा सकती है. बीर एक शांत गांव है जहां तिब्बती कॉलोनी बसी है. मटन मोमोज और थुकपा यहां के हर गली-मुहल्ले में आसानी से मिलते हैं.

Source: Travelbirbilling

2015 में बीर बिलिंग में पैराग्लाइडिंग विश्व कप का आयोजन भी हो चुका है. यहां 2500 रुपये में पैराग्लाइडिंग का मजा भी उठाया जा सकता है. पैराग्लाइडिंग में एहतियात के तौर पर एक व्यक्ति के साथ एक अनुभवी प्रोफेशनल की मौजूदगी होती है, ताकि किसी भी अनहोनी की स्थिति में ये प्रोफेशनल्स सुरक्षा प्रदान कर सकें.

Source: Travelbirbilling

पैराग्लाइडिंग की शुरुआत बिलिंग से होती है, जो 2400 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है और बीर से लगभग 14 किलोमीटर की दूरी पर है. बीर से आप कैब, स्कूटी और अगर चाहें तो माउंटेन बाइक का सहारा लेकर ऊपर बीर तक पहुंच सकते हैं. 14 किलोमीटर का ये रास्ता अपनी खूबसूरती से आपका दिन बना देगा.

सामान्य पैराग्लाइडिंग फ्लाइट 20 से 30 मिनट की होती है, जिसमें 8000 फीट की ऊंचाई से उड़ान भरी जाती है. वहीं बीर में 4500 फीट की ऊंचाई पर जाकर इसकी लैंडिंग होती है. बर्फ न गिरने पर इस फ्लाइट से धौलाधर पहाड़ी श्रृंखला और कांगड़ा वैली की खूबसूरती को भी निहारा जा सकता है.

Source: Travelbirbilling

यूं तो यहां आने का सबसे बढ़िया समय अक्तूबर से जून के बीच है, लेकिन दिसंबर और जनवरी के दौरान पैराग्लाइडिंग का अनुभव बेहद यादगार हो जाता है क्योंकि बर्फ से सने पहाड़ों की खूबसूरती देखने लायक होती है. साल के इन महीनों में कैंपिंग और पैराग्लाइडिंग के लिए बीर बिलिंग एक अद्भुत जगह है और कई टूरिस्ट इस सीजन में यहां अपनी मौजूदगी दर्ज कराते हैं.