दिल्ली से जयपुर तक बुलेट ट्रेन शुरू करने के बाद अब केंद्र सरकार दिल्ली से अन्य शहरों के बीच दूरी घटाने की कोशिश कर रही है. इस प्रोजेक्ट के बारे में बात करते हुए सरकार ने लोकसभा में एक रिपोर्ट सौंपी. इस रिपोर्ट में सरकार ने बताया कि इसके लिए एक स्पेनिश कंपनी INECO-TYPSA-ICT इस प्रोजेक्ट की स्टडी कर रही है, जिसका दावा है कि दिल्ली से वाराणसी के बीच की 720 किलोमीटर की दूरी को 12 घंटे के बजाय 2 घंटे 37 मिनट में तय की जा सकेगी.

Source: indiatimes

इसके लिए यात्रियों से दिल्ली से वाराणसी के लिए 3,240 रुपये जबकि लखनऊ के लिए 1,980 रुपये लिए जायेंगे. दिल्ली से वाराणसी तक जाने वाली बुलेट ट्रेन परियोजना की शुरुआत 2021 से होगी, जो ग्रेटर नॉएडा, अलीगढ, लखनऊ, सुल्तानपुर और जौनपुर से होती हुई वाराणसी पहुंचेगी. शुरुआत में इस परियोजना में जौनपुर का नाम शामिल नहीं था, पर MP कृष्णा प्रताप सिंह ने इसे पूर्वी उत्तर प्रदेश के साथ पराया व्यवहार बताया.

इस योजना पर करीब 52,680 करोड़ रुपये ख़र्च होने का अनुमान है, जिसे बाद में कोलकाता तक ले जाने की योजना है. रेलवे अधिकारीयों का कहना है कि इस बाबत गुरुवार को बोर्ड के साथ एक बैठक भी होनी है, जिसमें किसी तरह के बदलाव की गुंजाईशों पर बात की जाएगी.

Source: TOI