डेल्या मेरी एराना महज चार साल की उम्र में ही इतनी किताबें पढ़ चुकी हैं, जितनी इस दुनिया में सैंकड़ों लोग एक साथ अपनी पूरी जिंदगी में नहीं पढ़ पाते. नन्ही डेल्या ने अभी जिंदगी के पांच बरस भी नहीं देखे हैं, लेकिन वह अब तक हैरतअंगेज तौर पर 1000 किताबें पढ़ चुकी हैं. डेल्या ने दो साल की उम्र में अपनी पहली किताब पढ़ी थी.

गौरतलब है कि डेल्या जब पेट में थी, तब उसकी मां अपने बच्चों को रोज़ पढ़ाया करती थी. जब डेल्या एक नवजात शिशु थी तब उसके बड़े भाई उसके सामने किताबें पढ़ा करते थे और डेढ़ साल की होने पर वह उन अक्षरों को पहचानने लगी थी, जिसे उसकी मां उसे अकसर सुनाया करती थी

डेल्या की मां के मुताबिक, जितना ज्यादा उसे पढ़ने को मिलता था उतना ही वो और जानना चाहती थी और कई बार मुझसे किताबें लेकर खुद ही पढ़ना शुरु कर देती थी. शायद यही कारण था कि जब 2 साल और 11 महीने की उम्र में उसने अपनी पहली किताब पढ़नी शुरु की, तो हमें ज्यादा हैरानी नहीं हुई. डेल्या की मां हलीमा ने एक वीडियो भी अपलोड किया है, जिसमें नन्ही डेल्या अपनी पहली किताब पढ़ते हुए देखी जा सकती है.

डेल्या शहर की स्थानीय लाइब्रेरी में भी काफी मशहूर है. उसने हाल ही में जॉर्जिया 1000 बुक्स प्रोग्राम खत्म किया है. डेल्या की इस अद्भुत कहानी से कार्ला हेडन काफी प्रभावित हुईं है. गौरतलब है कि कार्ला दुनिया की सबसे बड़ी पुस्तकालय, लाइब्रेरी ऑफ कांग्रेस में लाइब्रेरियन हैं. डेल्या जब इस लाइब्रेरी में पहुंची तो हेडन ने उसकी दिलचस्पी देखते हुए उसे एक दिन का लाइब्रेरियन बना दिया. डेल्या का सपना है कि वह बड़े होकर एक बेहतरीन लाइब्रेरियन बने और बच्चों तथा लोगों को पढ़ने के लिए प्रेरित कर सके. डेल्या ने इस दौरान लाइब्रेरी के दूसरे लोगों से भी मुलाकात की.

डेल्या ने कहा कि मुझे अलग-अलग तरह की किताबों को निहारना भी बेहद रास आता है और मैं दूसरे बच्चों को भी छोटी उम्र से पढ़ना सिखाना चाहती हूं. डेल्या ने बताया कि लाइब्रेरी ऑफ कांग्रेस उसकी सबसे पसंदीदा लाइब्रेरी है.

गौरतलब है कि डेल्या के असल रीडिंग लेवल को एक बार भी टेस्ट नहीं किया गया है, हालांकि वह अपने 10 से 12 साल के भाई और बहन की किताबें आराम से पढ़ लेती है. इसके अलावा यूट्यूब पर इस बच्ची का एक वीडियो है, जिसमें वो एक कॉलेज स्तर की किताब को आराम से पढ़ते हुए देखी जा सकती है. डेल्या का पसंदीदा लेखक मो विलेम्स है और उसकी डायनासोर पर रिसर्च को लेकर भी खासी दिलचस्पी है.

Source: The Frisky