20 नवंबर को दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पर सचिवालय में एक व्यक्ति ने मिर्च पाउडर डाल दिया था. अभी ये मामला शांत भी नहीं हुआ था कि उनके आवास पर एक व्यक्ति ज़िंदा कारतूस के साथ पकड़ा गया. आरोपी कुछ मुस्लिम धर्मगुरुओं के साथ सीएम के जनता दरबार में पहुंचा था.

Source: Indian Express

पकड़े गए व्यक्ति का नाम मोहम्मद इमरान है. वो करोलबाग की एक मस्जिद का केयरटेकर है और दिल्ली के सीलमपुर इलाके में रहता है. सोमवार को वो सीएम हाउस में दिल्ली वक़्फ़ बोर्ड के कर्मचारियों की बढ़ी हुई सैलरी की शिकायत करने आया था.

दिल्ली पुलिस ने जांच के दौरान उसके पर्स से .32 बोर का एक कारतूस उसके पर्स से बरामद किया. इसके बाद उसे आर्म्स एक्ट के तहत गिरफ़्तार कर पुलिस को सौंप दिया गया.

Source: Zee News

सिविल लाइन्स पुलिस थाने में उससे पूछताछ हुई, जिसमें उसने बताया कि ये कारतूस उसे मस्जिद की दान पेटी में मिला था. वो 2-3 महीने पहले करोलबाग की बावली वाली मस्जिद में मौलवी था. वो उस कारतूस को यमुना नदी में फेंकना चाहता था मगर उसे मौका नहीं मिला. इसलिए उसने कारतूस को पर्स में रख लिया था.

Source: samacharnama

पुलिस अभी मामले की तफ़्तीश में लगी हुई है. सीएम अरविंद केजरीवाल के साथ कुछ दिनों पहले हुए मिर्ची पाउडर वाले इंसिडेंट के बाद, उनकी पार्टी ने सीएम की सिक्योरिटी को लेकर सवाल उठाए थे. उनका कहना है सीएम की हत्या की साज़िश रची जा रही है.

Source: Timesofindia