राशिद ख़ान! क्रिकेट का चमकता सितारा. एक ऐसा स्पिनर जो दुनिया के अच्छे से अच्छे बल्लेबाज़ को चुटकी में आउट कर सकता है. राशिद इन दिनों बल्लेबाज़ों के लिए सिरदर्द बन चुके हैं. वो अपनी फ़िरकी से बल्लेबाज़ों को ऐसे नचा रहे हैं जैसे मदारी बन्दर को. शुक्रवार को कोलकाता नाइट राइडर्स और सन राइज़र्स हैदराबाद के बीच खेले गए एलिमिनेटर मुक़ाबले में राशिद के शानदार प्रदर्शन को भला कौन भूल सकता है. राशिद ने पहले धमाकेदार बल्लेबाज़ी करते हुए मात्र 10 बॉल में 34 रन बनाये. उसके बाद 4 ओवर में मात्र 19 देकर कोलकाता के 3 मुख्य बल्लेबाज़ों को आउट किया. जबकि दो ज़बरदस्त कैच और एक खिलाड़ी को शानदार तरीके से रन आउट कर राशिद 'मैन ऑफ़ द मैच' बने.

राशिद के इस बाहुबली प्रदर्शन के बाद ने सिर्फ़ क्रिकेट फ़ैन, बल्कि क्रिकेट के दिग्गज भी उनके फ़ैन हो गए हैं. सचिन तेंदुलकर ने उन्हें दुनिया का बेस्ट स्पिनर बताया तो, दिग्गज़ लेग स्पिनर शेन वॉर्न ने कहा कि राशिद को बॉलिंग करते देखना अच्छा लगता है. जबकि युजवेंद्र चहल ने कहा कि क्रिकेट में सिर्फ़ एक ख़ान है वो है राशिद ख़ान.

राशिद के इस ज़बरदस्त प्रदर्शन के बाद भारतीय क्रिकेट फ़ैन कहां रुकने वाले थे. सोशल मीडिया पर लोग राशिद को भारतीय नागरिकता की मांग करने लगे. कई लोगों का कहना है कि रशीद जैसे टैलेंटेड खिलाड़ी को भारतीय टीम में होना चाहिए.

कई क्रिकेट फ़ैंस ने तो विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को ट्वीट कर राशिद को भारतीय नागरिकता देने की मांग तक कर डाली. इस पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी जवाब देते हुए कहा कि किसी भी दूसरे देश के व्यक्ति को भारतीय नागरिकता देने की ज़िम्मेदारी गृह मंत्रालय के पास होती है.

आख़िरकार आईसीसी भी इस जंग में कूद पड़ी. आईसीसी का कहना है कि हम किसी भी खिलाड़ी को किसी दूसरे देश के लिए तब तक नहीं खेलने दे सकते. जब तक वो अपने देश के लिए लगातार 4 साल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट न खेल ले.

इसके बाद बारी थी अफ़ग़ानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ़ ग़नी की उन्होंने उत्तेजित भारतीय क्रिकेट फ़ैंस को जवाब देते हुए कहा कि राशिद अफ़ग़ानिस्तान का हीरो है. वो हमारे देश के लिए अमूल्य सम्पति की तरह है. हम उसे किसी को नहीं देने वाले.

राशिद खान को लेकर इन दिनों सोशल मीडिया पर जंग छिड़ी हुई है. फ़ैंस ने अफ़ग़ानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ़ गनी को ट्वीट कर कहा कि आप शाहरुख़ ख़ान को ले जाओ और राशिद ख़ान हमें दे दो. कुछ ने कहा कि राशिद ख़ान हमें दे दो और कमाल राशिद ख़ान आप ले लो. जबकि किसी ने तो यहां तक कह डाला कि पीएम नरेंद्र मोदी ले जाओ और राशिद ख़ान हमें दे दो.

आईपीएल में राशिद के शानदार प्रदर्शन के दम पर उनकी टीम सनराइज़र्स हैदराबाद फ़ाइनल में पहुंच चुकी है. 27 मई को फ़ाइनल में सनराइज़र्स हैदराबाद का मुक़ाबला 7 फ़ाइनल में पहुंचने वाली महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स से होगा.