क्या एक विकसित देश और विकासशील देश के लोगों की ज़िदंगियों में फ़र्क होता है? क्या विकासशील देशों के लोगों की ज़िदंगियों से खिलवाड़ किया जा सकता है? ये सारे सवाल मेरे ज़ेहन में उस वक़्त आए जब मैंने एक ख़बर पढ़ी, जिसमें ये बताया गया था कि यूके में जो सिरिंज बैन है, उन्हें भारत और उसके जैसे तमाम विकासशील देशों में धड़ल्ले से इस्तेमाल किया जा रहा है.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की इस न्यूज़ के मुताबिक, यूके के National Health Service डिपार्टमेंट ने Graseby Syringe को 2010 में बैन कर दिया था. मगर इस कंपनी ने इन्हें बर्बाद करने या फेंकने के बजाए, उन्हें भारत, नेपाल और अफ्रीका जैसे देशों को डोनेट कर दिया. अब ये यहां आई हैं, तब इन देशों में इन्हें यूज़ भी किया गया होगा, यानि करोंड़ों लोगों की ज़िंदगियों से खिलवाड़.

लेकिन क्या आप जानते हैं कि अपने देश में लोगों की ज़िंदगियों से खिलवाड़ आए दिन होता है. क्योंकि अपने देश में ऐसी बहुत सी चीज़ें और भी हैं, जिन्हें हम रोज़ाना अपने घरों में इस्तेमाल कर रहे हैं. ये विदेशों में बैन हैं, लेकिन यहां नहीं. चलिए आपको इनके बारे में भी बता देते हैं.

1.रेड बुल पीने से आपके विचारों को पंख लगे न लगें, पर ये आपको Depression, Hypertension और दिल की बीमारियां ज़रूर लगा देगा. ये ड्रिंक फ्रांस और डेनमार्क में बैन है.

2. ये दर्द निवारक गोली विदेशों में मानकों पर खरी नहीं उतरी, इसलिए वहां इसे बैन कर दिया गया.

3. Unpasteurised Milk कनाडा और अमेरिका में प्रतिबंधित है. कारण इसमें पाए जाने वाले ख़तरनाक बैक्टीरिया, लेकिन ये हमारे यहां आसानी से मिल जाता है.

4. Jelly से बनी मिठाईयां और टॉफी हर दूसरी दुकान में मिल जाती हैं. ये यूएस, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया में बैन हैं. कारण इनके खाने से बच्चों का दम घुटने का ख़तरा रहता है.

5. ये कार क्रैशिंग टेस्ट को क्लीयर नहीं कर पाई, इसलिए इसे विदेशों में बैन कर दिया गया. पर यहां ये आराम से बिक रही है.

6. कोल्ड और फ्लू ठीक करने वाली ये गोली आपको किडनी से रिलेटेड बीमारियां दे सकती है. इसलिए इसे विदेशों में बैन कर दिया गया है.

7. खिलौने के साथ मिलने वाली ये चॉकलेट बच्चों में काफ़ी फ़ेमस है. लेकिन इसे खाने से उनका दम घुटने का ख़तरा रहता है. इसलिए अमेरिका ने इसे बैन कर रखा है.

8. ये दर्द निवारक गोली ऑस्ट्रेलिया, यूएसए, कनाडा में बैन है. क्योंकि इसे खाने से लिवर से संबंधित बीमारियां हो सकती हैं.

9. ये साबुन आपको तंदुरूस्ती भले ही न दे, लेकिन आपको स्किन प्रॉब्लम्स ज़रूर दे सकता है. और तो और विदेशों में इसे जानवरों को नहलाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

10.फ़सलों को बचाने वाले करीब 60 कीटनाशक इंडिया में बड़े आराम से यूज़ किए जाते हैं. ये विदेशों में प्रतिबंधित हैं, क्योंकि फ़सलों से ये अनाज में चले जाते हैं और इस तरह हमारे शरीर में. इसकी वजह से कई बीमारियां बाद में हो सकती हैं.

11. खाने के बाद चुइंग गम जहां भी फेंको वहीं ये चिपक जाती है और इसे साफ़ करना आसान नहीं होता. इसलिए सिंगापुर ने इसे बैन कर रखा है.

क्या हमारी सरकार इन सब से अंजान है? अगर नहीं, तो ये सारी चीज़ें हमारे देश में भी बैन क्यों नहीं होती?

Source: Scoopwhoop