अभी बीते दिनों फेसबुक ने एक पोस्ट शेयर की थी. फेसबुक ने बताया कि Bug Bounty Program के तहत सबसे ज़्यादा रिवॉर्ड्स इंडियन हैकर्स को मिले हैं.

Source: huffpost

आखिर है क्या Bug Bounty Program?

ये फेसबुक द्वारा साल 2011 में लॉन्च किया गया था. इसके तहत लोगों को फेसबुक और वाट्सएप्प, इंस्टाग्राम से जुड़ी कुछ खामी की जानकारी बताने पर उनको एक निश्चित धनराशि दी जाती है. इस फेसबुक पोस्ट में इस बात की जानकारी दी गई है कि बीते 5 सालों में 5 मिलियन डॉलर की राशि इस तरह के सॉफ्टवेयर Bugs के लिए दी गई है.

Source: Cryptus

साल 2016 में लगभग 9,000 Bug फेसबुक को रिपोर्ट किए गये हैं. इसमें से रिसर्च करने वाले 149 भारतीय हैकर्स थे, जिनको 611,741 डॉलर दिए गये हैं और ये संख्या अमेरिका और मैक्सिको से ज़्यादा है.

इसी साल बेंगलुरु के एक Techie ने पासवर्ड सिस्टम से जुड़ा एक बग बताने पर 15,000 डॉलर का रिवॉर्ड जीता था. इसके अलावा एक शख़्स को फोटोज़ से जुड़े मसले पर Bug के लिए 12,500 डॉलर दिए गये. इसके बाद ट्विटर ने भी साल 2014 में ये प्रोग्राम शुरु कर दिया. ट्विटर बीते दो सालों में 3,22,420 डॉलर दे चुका है.

Source: Huffpost