कितनी ही बार ऐसा होता होगा जब फ़ेसबुक पर किसी पोस्ट को देखने के बाद आप हताशा से भर उठते होंगे. लाइक की जगह इन पोस्ट्स से आप असहमति जताना चाहते होंगे, इन्हें डिसलाइक करना चाहते होंगे लेकिन एक अदद 'डिसलाइक' ऑप्शन की कमी के चलते कई लोग केवल मन मसोस कर रह जाते हैं. फ़ेसबुक ने लोगों की 'मन की बात' समझते हुए लव, एंग्री और ऐसी ही कई प्रतिक्रियाएं या इमोजी तो उपलब्ध कराई, लेकिन इनमें अब भी डिसलाइक इमोजी नदारद थी.

Source: Emojipedia

एक ज़माने से लोगों की डिसलाइक की मांग को नज़रअंदाज़ करता आ रहा फ़ेसबुक आखिरकार लोगों के दबाव के आगे झुकता नज़र आ रहा है. फे़सबुक अब ट्रायल के तौर पर डिसलाइक ऑप्शन को लोगों के सामने लेकर आ रहा है. हालांकि ये ऑप्शन अभी फ़ेसबुक एप मेसेंजर को इस्तेमाल करने वाले लोगों के लिए ही उपलब्ध होगा.

गौरतलब है कि फ़ेसबुक ने पिछले कुछ समय से डिसलाइक ऑप्शन की मांग को लगातार ठुकराया है. इसका सबसे बड़ा कारण माना जा रहा है कि इस ऑप्शन को किसी भी पोस्ट के खिलाफ़ गलत तरीके से इस्तेमाल कर सकते हैं और ये Online Bullying के बड़े हथियार के तौर पर इस्तेमाल हो सकता है.

Source: aconsciousrethink

पिछले साल ही फ़ेसबुक ने लोगों को Like के अलावा भी कई प्रतिक्रियाएं उपलब्ध कराईं थी. ये रिएक्शन इमोजी लोगों के बीच बेहद लोकप्रिय रही हैं और अब तक इन्हें 300 बिलियन से ज़्यादा बार इस्तेमाल किया जा चुका है.

Source: wired

एक फ़ेसबुक प्रवक्ता के मुताबिक, हम हमेशा से ही मेसेंजर को एक दिलचस्प और मज़ेदार प्लेटफॉर्म बनाने को लेकर काम कर रहे हैं और डिसलाइक ऑप्शन इस प्रयास में एक और कड़ी है. लोग किसी चीज़ को लेकर अपनी असहमति जताने के साथ-साथ किसी प्लान को मना करने के तौर पर भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं.

ये देखना दिलचस्प होगा कि मेसेंजर के बाद फ़ेसबुक अपने इस नए फीचर को अपने मेन प्लेटफॉर्म पर कब तक उपलब्ध कराता है. उम्मीद है कि फ़ेसबुक इस ऑप्शन के बेजा इस्तेमाल से रोकने के लिए भी एक रणनीति के साथ तैयार होगा.

Source: rt