बॉलीवुड में बात जब विदेशी एक्टर्स की होती है, तो सबसे पहले दिमाग़ में Gavin Packard की छवि उभर आती है, जिनका लुक हॉलीवुड स्टार Sylvester Stallone से मिलता-जुलता था. इन्होंने 90 के दशक में कई बॉलीवुड फ़िल्मों में विलेन का रोल निभा कर अपने किरदार को हमेशा के लिए यादगार बना दिया.

Gavin Packard ने इलाका से बॉलीवुड में डेब्यू किया था. विदेशी लुक वाले इस एक्टर को देखकर लोगों के पसीने छूट जाते थे. 90 के दशक में बहुत कम ही लोगों की फ़िटनेस उनके जैसे होती थी. उन्होंने कुल मिलाकर 60 फ़िल्मों में काम किया था. उनकी सबसे यादगार फ़िल्में हैं त्रिदेव, मोहरा, खिलाड़ियों का खिलाड़ी, करण अर्जुन.

संजय दत्त की सुपरहिट फ़िल्म सड़क तो याद ही होगी आपको. इसे फ़िल्म को उसके विलेन महारानी उर्फ़ सदाशिव अमरापुरकर और उसके राइट हैंड Gavin Packard के लिए भी याद किया जाता है. ख़ासकर इसका वो सीन, जिसमें Gavin Packard और संजय दत्त की फ़ाइट से पहले महारानी उसे लड़ने के लिए भेजती है. 

महारानी फ़ोन पर Gavin से कहती है, 'ओ साइड हीरो देख तेरा बाप आया है, इसी दिन के लिए तेरे को पाला पोसा था... आजा.'

Gavin साल 2012 में इस दुनिया को छोड़ कर चले गए थे. Gavin के माता-पिता आयरिश थे, लेकिन उनका जन्म महाराष्ट्र के कल्याण ज़िले में हुआ था. इसलिए बहुत से लोग उन्हें विदेशी ही समझते हैं, लेकिन असल में वो एक भारतीय हैं.

90 के दशक में जवान हुए लोग भले ही इनका नाम न जाते हों, लेकिन उनकी शक्ल ज़रूर पहचानते होंगे. गैविन जैसे ही पर्दे पर फ़ाइट करने आते थे उनकी बॉडी देखकर हर कोई दंग रह जाता था. वो हीरो को जमकर धोते थे, लेकिन आख़िर में उन्हें हीरो से मार खानी ही पड़ती थी, क्या करें स्क्रिप्ट ही ऐसी लिखी जाती थी. जैसा कि करण-अर्जुन के इस सीन में वो सलमान खान से पिटते दिख रहे हैं-

बॉडी बिल्डिंग उनका शौक था. Gavin ने राज्य और नेशनल लेवल पर इस क्षेत्र में कई अवॉर्ड भी जीते थे. इतना ही नहीं, उन्होंने सलमान खान के बॉडीगार्ड शेरा सहित संजय दत्त और सुनील शेट्टी को भीबॉडी बनाने के लिए ट्रेन किया था.