अमेरिका के शहर Yuba में बांध टूटने का डर बना हुआ है. आस-पास के रिहायशी इलाकों से लोग निकल कर भाग रहे हैं. ऐसे में एक समुदाए, जो हमेशा से इंसानियत के लिए जाना जाता है, उसने ऐसे लोगों के लिए मदद का हाथ बढ़ाया है.

California के एक गुरूद्वारे ने Yuba से बेघर हुए लोगों को आसरा देने की बात कही है. इस जगह पर कई भारतीय और अमेरिकी रहते हैं, जिन्हें उनका आशियाना छोड़ कर जाना होगा. हर पल बढ़ते खतरे को देखते हुए इस शहर को खाली करने के आदेश भी दे दिए गए हैं.

Source: Reuters

ऐसे में बेघर हुए लोगों को गुरूद्वारे की दो मंजिला इमारत में रहने के लिए जगह दी जा रही है. गुरुद्वारा कमेटी ने इसके लिए तैयारियां भी कर ली हैं. उन्होंने 200 नए टॉयलेट्स बनवाए हैं. रसोई में करीब 19 लोग लगातार खाना बनाने के लिए तैयार हैं.

ये बांध अमेरिका का सबसे ऊंचा बांध है, जिसका भारी बारिश के बाद टूटने का ख़तरा बना हुआ है. लोग हर घंटे गुरुद्वारे पहुंच रहे हैं. इन हालातों में भी गुरुद्वारे के सेवक लगातार लोगों की हर तरह से मदद कर रहे हैं.

Source: Gurdwara Sahib West Sacramento

सिख समुदाए सालों से बिना किसी लाभ के लोगों की मदद लगातार कर रहा है. न सिर्फ़ देश में, बल्कि देश के बाहर भी जहां ये समुदाए हर परिस्थिति में लोगों की मदद के लिए आगे आता है. इनके लगंर सबसे बड़े उदाहरण हैं, जहां बिना किसी जात और धर्म जाने हर किसी की भूख मिटाने का काम किया जाता है. सच में इस समुदाए के लिए दिल से सलाम निकलता है.