चाहे इंडिया हो या इंग्लैंड, फ्रांस हो या फ्लोरिडा, दुनिया में आप कहीं भी चले जाइये आपको एक न एक बंदा तो ऐसा मिल ही जायेगा, जो फ़ोन पर किसी से हरियाणवी में बात कर रहा होगा. अब इसे हरियाणवी बोली का चार्म ही कहिये कि कहीं भी चले जायें, ये अक्खड़ बोली आपको सुनने को मिल ही जाएगी. ये बोली सुनने में बेशक ही अक्खड़ लगती हो पर इसकी भी अपनी ही खासियत है. पहली नज़र में तो ऐसा लगता है कि इसे बोलने वाला तो अभी लड़ने वाला है, पर ऐसा नहीं है दोस्त. हां पर किसी पर इम्प्रेशन बनाना हो या किसी ऐसे बंदे को समझाना हो, जिसे प्यार की भाषा समझ नहीं आती, वहां ये बोली बड़े काम की है. तो दोस्तों आज हम आपको इसी बोली के कुछ शब्द और वाक्य बताने वाले हैं, जिनसे आप भी कॉलेज या ऑफिस में अपना इम्प्रेशन बना सकते हैं.

Art By: PuneetGaur