हमारे देश में ट्रैफ़िक रूल्स की परवाह लोग तब तक नहीं करते जब तक कि उनका चालान न कट जाए. कोई कहीं भी गाड़ी पार्क कर देता है. रेड लाइट पर अगर पुलिस वाले न दिखाई दें तो रेड लाइट तोड़ देते हैं. ऐसे लोगों को हैदराबाद पुलिस से सीख लेना चाहिए, जिसने ग़लत जगह पर पार्किंग करने के लिए अपने ही ACP का चालान काट दिया.

Source: The Hindu

ये पूरा वाकया 15 नवंबर का है. एक पत्रकार ने हैदराबाद पुलिस को ट्वीट किया. उसमें उन्होंने लिखा- 'क्या हैदराबाद ट्रैफ़िक पुलिस इस कार का चालान काटेगी, जो नो पार्किंग ज़ोन में खड़ी है. जगह-माकनकली ट्रैफ़िक पुलिस स्टेशन. समय-3 PM.'

हैदराबाद पुलिस ने उनके ट्वीट पर तुरंत रिप्लाई किया. साथ ही ई-चालान की कॉपी शेयर की. इस ट्वीट में उन्होंने जिस ACP का चालान काटा था उ,न्हें भी टैग किया.

इस पूरे मामले पर हैदराबाद के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त अनिल कुमार ने अपनी सफ़ाई पेश करते हुए कहा- मैं 15 नवंबर को माकनकली पुलिस स्टेश की विजिट पर गया था. लेकिन मुझे पता नहीं था कि मेरे ड्राइवर ने नो पार्किंग ज़ोन में कार पार्क कर दी है. ट्वीट के ज़रिये मुझे इसका पता चला और मैंने तुरंत ही ट्रैफ़िक पुलिस को चालान करने को कहा था. मेरे ड्राइवर ने 235 रुपये का चालान भर दिया है.

Source: Inshorts