कई बार छोटी-छोटी चीज़ें किसी इंसान को इतना आहात कर देती हैं कि वो उन्हें दिल से लगा बैठता है और तनाव का शिकार हो जाता है. इस तनाव से वो इतना हार जाता है कि मौत ही उसे एकमात्र रास्ता दिखाई देती है. ऐसा ही कुछ 2012 बिहार कैडर के IAS अधिकारी मुकेश पांडेय के साथ हुआ, जो बक्सर में बतौर डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट के पद पर तैनात थे.

ख़बरों के मुताबिक, मुकेश का शव गाज़ियाबाद रेलवे स्टेशन के पास एक रेलवे ट्रेक पर पाया गया. आत्महत्या करने से पूर्व मुकेश ने एक वीडियो बनाया और अपने माता-पिता के साथ अपनी पत्नी को ये वीडियो भेज कर उन्हें इसके पीछे की वजह बताई.

इस वीडियो में मुकेश ने कहा है कि 'वो अपनी ज़िंदगी में आये तनाव से तंग आ चुके हैं. इंसानियत से भी उनका भरोसा उठ चुका है.' इस वीडियो में उन्होंने ये भी कहा कि 'वो अपने बीवी-बच्चों से बहुत प्यार करते हैं.

उनके शरीर के साथ ही पुलिसवालों को एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें उन्होंने लिखा है कि 'दिल्ली के जनकपुरी में फाइव स्टार होटल के रूम नंबर 742 में मेरा सुसाइड नोट पड़ा हुआ है. मैं यहां दसवें फ्लोर से कूद कर अपनी जान दे रहा हूं. मैं आपसे बहुत प्यार करता हूं और आपसे माफ़ी मांगता हूं.'

गुरुवार को मुकेश अपने होटल से अचानक गायब हो गए थे, जिसके बाद उनके रिश्तेदारों ने पुलिस को इस वीडियो के बारे में सूचित किया. होटल के CCTV कैमरे में भी मुकेश होटल को छोड़ते हुए दिखाई दिए थे.

Source: indiatimes