दुनिया का सबसे बड़ा आतंकी संगठन ISIS आने वाले दिनों में भारत पर हमला कर सकता है. आईएस की चेतावनी के मुताबिक देश के भीडभाड़ वाले फ़ेस्टिवल्स में आईएस 'Lone Wolf' अटैक को अंजाम दे सकता है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एक 10 मिनट लंबी ऑडियो क्लिप को मलयालम में जारी किया गया है और इस क्लिप में साफ़ शब्दों में धमकी दी गई है कि अमेरिका में हुई शूटिंग की तर्ज पर थिरसुररपूरम और महाकुंभ मेले में भी आतंकी घटना को दोहराया जा सकता है.

माना जा रहा है कि स्थानीय आईएस संस्था दौलतुल इस्लाम ने अपनी 50वीं क्लिप जारी की है. इस क्लिप में मौजूद शख़्स का कहना था -

'तुम अपना दिमाग इस्तेमाल करो. उनके खाने में ज़हर दे दो. ट्रक का इस्तेमाल करो. थिरसुरपुरम या महाकुंभ मेले में ट्रक से लोगों को मार दो. आईएस मुजाहिदीन ऐसा दुनिया के कई हिस्सों में कर रहा है. अमेरिका के लास वेगास में हुए एक म्यूज़िक कॉन्सर्ट में हमारे एक समर्थक ने कई लोगों को मार डाला. कम से कम किसी ट्रेन को ही पलट दो, या चाकू का इस्तेमाल करो.'

Source: qzprod

इससे पहले लास वेगास में एक Lone Wolf गनमैन ने अमेरिका के इतिहास में सबसे ख़तरनाक मास शूटिंग को अंजाम दिया था. इस म्यूज़िक फ़ेस्टिवल में 22,000 लोग मौजूद थे और हमलावर ने ताबडतोड़ कई गोलियां बरसाईं थीं. अक्तूबर में हुई इस शूटिंग में 58 लोगों की मौत हो गई थी और 500 लोग घायल हो गए थे. 64 साल के स्टीफ़न क्रेग पैडॉक ने इस हमले को अंजाम दिया था हालांकि एफ़बीआई ने स्टीफ़न के आईएस के साथ कनेक्शन को लेकर इंकार किया था.

वहीं केरल पुलिस सूत्रों के मुताबिक, इस ऑडियो क्लिप को टेलीग्राम मेसेंजर से ट्रांसमिट किया गया है और कॉल की लोकेशन अफ़गानिस्तान बताई जा रही है. माना जा रहा है कि इस क्लिप में मौजूद आवाज़ राशिद अब्दुल्ला की है. राशिद को कसारागोद में इस्लामिक स्टेट मॉड्यूल का लीडर बताया जा रहा है. राशिद देश छोड़कर अफ़गानिस्तान जाकर इस संस्था से जुड़ गया था. राशिद अब्दुल्ला के खिलाफ़ इंटरपोल ने एक रेड नोटिस भी जारी किया है. पिछले साल राशिद के पिता ने पुलिस में एक शिकायत भी दर्ज कराई थी जिसमें उन्होंने कहा था कि मुंबई से उसका बेटा राशिद अपनी पत्नी और बच्चे के साथ लापता हो गया है. ये क्लिप एक ऐसे समय पर आई है जब केरल पुलिस को कम से कम 100 ऐसे लोगों के बारे में जानकारियां मिली हैं जिन्होंने अपने राज्य को छोड़कर इस्लामिक स्टेट में भर्ती होने का फ़ैसला किया था.

Source: Globeandmail

केरल पुलिस ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है. पुलिस ने पिछले कुछ दिनों में Whatsapp, टेलीग्राम मेसेजिंग एप जैसे कई सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म्स के ज़रिये 300 से ज़्यादा ऑडियो क्लिप बरामद किए हैं और इन क्लिप्स की जांच की जा रही है. क्लिप में ये भी कहा गया है कि अगर अपने प्रयासों के बावजूद आप दारूल इस्लाम (यानि विश्वास करने वालो) के पास नहीं आ सकते हैं, तो कम से कम आईएस की आर्थिक रूप से सहायता तो कर ही सकते हैं.

कैबिनेट सेक्रेटी के पूर्व स्पेशल डायरेक्टर वी. बालाचंद्रन ने कहा कि ये बेहद गंभीर मसला है. वो इस लड़ाई को पहले भारत और फिर यूरोप और मिडिल ईस्ट में ले जाने की तैयारी में है. वहीं केरल डीजीपी लोकनाथ बेहेरा ने भी कहा कि इस क्लिप को पूरी गंभीरता से लिया जा रहा है और इस मामले में पूरी एहतियात के साथ एक्शन लिया जाएगा.

Source: ZeeNews