भारत में रेल से यात्रा करना एक खास अनुभव के तौर पर शुमार किया जाता है. 10 लाख से ज्यादा लोगों को रोजगार की सहूलियत मुहैया करवाने वाली भारतीय रेलवे को देश की रीढ़ भी कहा जाता है. 18 वीं शताब्दी में अंग्रेजों द्वारा शुरू किया गया भारतीय रेल सिस्टम आज अपने कई खूबसूरत रेलवे स्टेशंस के लिए भी जाना जाता है.

छत्रपति शिवाजी, मुंबई

1887 में बने इस रेलवे स्टेशन को पहले विक्टोरिया टर्मिंनस कहा जाता था. 1996 में इस रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर छत्रपति शिवाजी रख दिया गया. आर्किटेक्चर के हिसाब से देखें, तो मुंबई का ये रेलवे स्टेशन देश के बेहतरीन रेलवे स्टेशन में शुमार है.

दूधसागर, गोवा

जब बात खूबसूरती की आती है, तो दूधसागर रलवे स्टेशन से बेहतर स्टेशन मिलना मुश्किल है. ये स्टेशन अपने शानदार प्राकृतिक सौंदर्य के लिए जाना जाता है.

चार बाग, लखनऊ

लखनऊ में मौजूद चार बाग रेलवे स्टेशन को देश के सबसे खूबसूरत रेलवे स्टेशन में शुमार किया जाता है. इस जगह पर मौजूद चार बेहतरीन बगीचों के चलते ही इस जगह का नाम चार बाग पड़ा था. यहां मौजूद शानदार बिल्डिंग, बगीचे इसे एक स्टेशन न होकर एक पैलेस की सी फील देते हैं.

हावड़ा स्टेशन, बंगाल

1854 में बने हावड़ा स्टेशन देश का सबसे पुराना स्टेशन है. ये स्टेशन हुगली नदी के पास स्थित है और हावड़ा बांध की वजह से ये कोलकाता से कनेक्ट होता है. यह स्टेशन देश के बाकी स्टेशंस की तुलना में कहीं ज्यादा ट्रेन को हैंडल कर सकता है.

कानपुर स्टेशन, लखनऊ

उत्तर प्रदेश के सबसे बड़े स्टेशन में शुमार, कानपुर का निर्माण 1928 में शुरु हुआ था और 1930 में ये बन कर पूरा हुआ था. इस स्टेशन की बिल्डिंग काफी हद तक लखनऊ के चार बाग रेलवे स्टेशन से प्रेरित है.

कटक, उड़ीसा

कटक में मौजूद ये रेलवे स्टेशन अपने आप में बेहद खास है. इसे बाराबाती महल की तरह डिज़ाइन किया गया है. ये उड़ीसा का सबसे व्यस्त स्टेशन है.

विजयवाड़ा, आंंध्र प्रदेश

दक्षिण भारत के सबसे व्यस्त रेलवे स्टेशन में शुमार विजयवाड़ा रेलवे स्टेशन का निर्माण 1888 में हुआ था. इस स्टेशन को 2008 में A1 का दर्जा दिया गया था.

तिरुवंदरम सेंट्रल, केरल

1931 में बने इस स्टेशन को देश के सबसे पुराने रेलवे स्टेशंस में शुमार किया जाता है. ज्यादातर समय इस स्टेशन पर लोगों की आवाजाही बनी रहती है, लेकिन अत्यंत व्यस्त होने के बावजूद इस जगह का रख-रखाव काफी बेहतरीन तरीके से किया जाता है. इस रेलवे स्टेशन की इमारत उत्कृष्ट निर्माण का एक नमूना है.

द्वारका, गुजरात

द्वारका शहर की तरह ही यहां का रेलवे स्टेशन भी अपने आप में बेहद खास है. कोई भी शख्स इस स्टेशन को आसानी से एक मंदिर समझ सकता है क्योंकि इसका निर्माण शहर की कई इमारतों की तरह ही एक मंदिर के रूप में हुआ है.

चेन्नई रेलवे स्टेशन

चेन्नई सेंट्रल रेलवे स्टेशन को दक्षिण भारत के सबसे महत्वपूर्ण रेलवे स्टेशन में शुमार किया जाता है. 143 साल पुराने इस स्टेशन को आर्किटेक्ट हेनरी इर्विन ने बनाया था. देश के सबसे पुराने रेलवे स्टेशन होने के बावजूद इसका रख-रखाव काफी बेहतरीन तरीके से किया गया है.

Source: Holidify