क्रिकेट का खेल ही ऐसा होता है जहां हर वक़्त रोमांच बना रहता है. कभी कोई टीम जीत के कगार पर पहुंचकर हार जाती है, तो कोई हारते-हारते जीत जाता है. क्रिकेट मैदान पर भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच हमेशा ही कड़ी टक्कर देखने को मिलती है. भारत-पाक मुक़ाबलों के बाद सबसे ज़्यादा रोमांच भारत-ऑस्ट्रेलिया मैचों में ही देखने को मिलता है. इन दोनों टीमों के पास क्रिकेट इतिहास की कई ऐसी शानदार यादें हैं, जिन्हें क्रिकेट फ़ैंस हमेशा याद रखना चाहेंगे.

आईये चलते भारत-ऑस्ट्रेलिया मैचों की कुछ ख़ूबसूरत यादों को ताज़ा करते हैं-

1- भारत की ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ पहली टेस्ट जीत

साल 1959 में कानपुर के ग्रीन पार्क मैदान पर भारत ने ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ अपनी पहली टेस्ट जीत हासिल की थी. इस टेस्ट में भारतीय स्पिनर जसुभाई पटेल ने पहली पारी में 69 देकर ऑस्ट्रेलिया के 9 विकेट्स जबकि दूसरी पारी में 55 देकर 5 विकेट्स झटके थे.

2- ऑस्ट्रेलियाई युवा टीम ने भारतीय दिग्गज़ टीम को हराया

साल 1977, ऑस्ट्रेलिया के ब्रिस्बेन में खेला गया ये टेस्ट मैच इसलिए भी ख़ास है क्योंकि इस मैच में ऑस्ट्रेलिया के 6 खिलाडियों ने टेस्ट डेब्यू किया था. सुनील गावस्कर, दिलीप वेंगसरकर और गुंडप्पा विश्वनाथ जैसे दिग्गज़ों से भरी भारतीय टीम ये टेस्ट मैच हार गई थी.

3- शारजहां में सचिन के तूफ़ान में उड़ा ऑस्ट्रेलिया

साल 1998, शारजहां में खेले गए इस यादगार मैच में सचिन ने 143 रनों की धमाक़ेदार पारी खेलकर टीम इंडिया को 'कोका कोला कप' के फ़ाइनल में पहुंचाया था. ये मैच ख़ासकर सचिन और शेन वॉर्न की टक्कर के लिए भी जाना जाता है. सचिन ने इस मैच में वॉर्न और कास्प्रोविच की ख़ूब धुनाई की थी.

4- फ़ॉलोऑन के बाद टेस्ट मैच जीता

साल 2001, कोलकाता के ईडन गार्डन में खेले गए इस टेस्ट में भारत ने पहली पारी में पिछड़ने के बाद फ़ॉलोऑन खेलकर ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ ऐतिहासिक जीत हासिल की थी. इस मैच में वी. वी. एस लक्ष्मण (281) और राहुल द्रविड़ (180) ने शानदार पारियां खेली थी.

5- जब इशांत ने स्मिथ को मुंह बनाकर चिढ़ाया

साल 2017, भारत दौरे पर आई ऑस्ट्रेलियन टीम के कप्तान स्टीव स्मिथ बेंगलुरु टेस्ट के दौरान जब बल्लेबाज़ी कर थे तो इशांत ने उनका ध्यान भटकाने के लिए अजीबो-ग़रीब शक़ल बनान शुरू कर दिया. इशांत की ये हरकत देख स्मिथ भी हैरान थे.

6- हरभजन-साइमंड्स मंकी गेट

साल 2008 भारत का ऑस्ट्रलिया दौरा, जब सिडनी में दूसरे टेस्ट के दौरान भज्जी और साइमंड्स आपस में भीड़ गए थे. साइमंड्स ने भज्जी पर मंकी कहने का आरोप लगाया. ऑस्ट्रलिया ने भारत के ख़िलाफ़ रंगभेदी टिप्पणी की शिकायत की. अंपायर स्टीव बकनर ने द्रविड, धोनी और गांगुली को ग़लत आउट दिया तो टीम इंडिया ने खेलने से मना कर दिया था.

7- रोहित शर्मा दोहरा शतक लगाने वाले तीसरे भारतीय

साल 2013 में बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले गए वनडे मैच के दौरान रोहित शर्मा ने 158 गेंदों पर 209 रनों की मैराथन पारी खेली थी. इसी के साथ रोहित सचिन, सेहवाग के बाद दोहरा शतक तीसरे भारतीय क्रिकेटर बने थे. भारत ये मैच 57 रन से जीता था.

8- विराट बने भारत के सबसे तेज़ शतकवीर

साल 2013, ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ जयपुर में खेले गए एक वनडे मैच के दौरान विराट कोहली ने मात्र 52 गेंदों पर शतक जमाया था. जिसमें 8 चौके और 7 छक्के लगाए थे. 359 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने मात्र एक विकेट खोकर 44 वें ओवर में ही मैच जीत लिए था.

9- मुरली कार्तिक का जादू चला

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए इस मैच को टीम इंडिया के पूर्व स्पिनर मुरली कार्तिक के लिए जाना जाता है. इस मैच में मुरली ने 27 रन देकर 6 विकेट जबकि आख़िरी क्षणों में नाबाद 21 रन बनाकर भारत को रोमांचक जीत दिलाई थी. भारत ने एक वक़्त 143 पर 8 विकेट गंवा दिए थे.

10- 20 साल बाद भारत ने खेला वर्ल्ड कप फ़ाइनल

साल 2003 में टीम इंडिया ने सौरव गांगुली की कप्तानी ने पूरे 20 साल बाद ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ वर्ल्ड कप फ़ाइनल खेला. भारत को इसमें हार मिली थी.

11- भारत की पहली Commonwealth Bank Series जीत

ऑस्ट्रेलिया में खेली गई तीन देशों की Commonwealth Bank Series के दूसरे फ़ाइनल में भारत ने सचिन के शानदार 91 रनों के दम पर ऑस्ट्रेलिया को मात दी.

12- कुंबले और श्रीनाथ की बल्लेबाज़ी

साल 1996,Titan Cup के एक मैच में श्रीनाथ (30) और कुंबले (16) ने लोअर आर्डर पर बल्लेबाज़ी करते हुए भारत को शानदार जीत दिलाई थी. 215 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत 164 पर 8 विकेट गंवा चूका था.

13- विराट ने दिखाई मिडिल फिंगर

Source: trendingviralpost

भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच मुक़ाबले इतने कड़े होते हैं कि दर्शक तो दर्शक खिलाड़ी भी होश खो बैठते हैं. साल 2012 टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर थी. शुरू के दोनों टेस्ट में विराट कोहली का बल्ला चल नहीं पाया तो ऑस्ट्रेलियन फ़ैंस उनकी हूटिंग करने लगे, इस पर विराट ने गुस्से में उनको मिडिल फिंगर दिखा दी.

14- स्मिथ और साहा जब पिच पर लेट गए

साल 2017 ऑस्ट्रेलिया का भारत दौरा. तीसरे टेस्ट के दौरान जडेजा जब स्मिथ को गेंदबाज़ी कर रहे थे तो गेंद उनके पैड में अटक गई. क्रिकेट के नियमों के मुताबिक़ अगर कोई फ़ील्डर उस गेंद को कैच कर ले तो बैट्समैन आउट माना जाता है. जैसे ही सहा ने ये देखा वो गेंद को उठाने दौड़ पड़े, लेकिन स्मिथ ने सहा को गेंद नहीं लेने दी और दोनों पिच पर ही गिर पड़े.

15- युवराज का डेब्यू मैच

साल 2000, युवराज सिंह ने ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ अपने पहले ही मैच में 80 गेंदों पर 84 की धमाकेदार पारी खेली थी. पहली बार कोई युवा खिलाड़ी अपने पहले ही मैच में ऑस्ट्रेलिया जैसी ख़तरनाक टीम के ख़िलाफ़ ऐसी पारी खेल रहा था.

तो, दोस्तों कैसी लगी आपको हमारी ये कोशिश? अगली बार आप क्रिकेट की किन ख़ूबसूरत यादों को ताज़ा करना चाहेंगे?