देश भर के पुलिस वालों के दिन बदलने वाले है. अंग्रेज़ों के ज़माने से चली आ रही खाकी वर्दी की जगह अब पुलिसवाले आरामदायक और ट्रेंडी यूनिफ़ॉर्म में नज़र आएंगे. इस नई वर्दी को अहमदाबाद स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ डिज़ाइन (NID) ने पांच सालों की रिसर्च के बाद डिज़ाइन किया है. इस नई वर्दी की खास बात ये है कि ये सभी राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों और सेंट्रल पैरामिलिट्री फ़ोर्स के लिए एक स्टैंडर्ड यूनिफ़ॉर्म होगी.

NID ने इस नई यूनिफ़ॉर्म को ब्यूरो ऑफ़ पुलिस रिसर्च एंड डेवलेपमेंट (BPR&D) के एसोसिएशन के साथ मिलकर डिज़ाइन किया है. ये दोनो संस्थाएं इस नई यूनिफ़ॉर्म के नौ प्रोटोटाइप के साथ सामने आई हैं. इनमें शर्ट्स, ट्राउजर्स, बेल्ट्स, शूज़, जैकेट्स, रेनवियर और हेडगियर, कैप्स और Insignia शामिल है. विशेषज्ञों और BPR&D ऑफ़िसर्स ने इस यूनिफ़ॉर्म को डिज़ाइन करने से पहले कई फ़ैक्टर्स पर काम किया मसलन प्रदेश के तापमान, एल्टीट्यूड, वर्किंग कंडीशंस जैसी कई महत्वपूर्ण बातों को मद्देनज़र रखते हुए इस नए यूनिफ़ॉर्म को डिज़ाइन किया गया है.

Source: clubpimble

इस सिलसिले में पैरामिलिट्री फ़ोर्स और सभी राज्यों के पुलिस फ़ोर्स को एक रिपोर्ट भेजी गई है ताकि वो इन प्रोटोटाइप्स में से अपना चुनाव कर सकें. गौरतलब है कि इस यूनिफ़ॉर्म को चुनने से पहले कई राज्यों के पुलिस ऑफ़िसर्स और लोगों की राय ली गई. इसमें ये भी पाया गया कि वर्तमान वर्दी में कई तरह की समस्याएं थीं. शर्ट्स का फ़ैब्रिक काफी Thick होने की शिकायतें आईं. इसके अलावा सेलफ़ोन, चाबिय़ां या ऐसी ही ज़रूरत की चीज़ों को रखने के लिए जेबों की भी कमी थी. पुलिस वालों के लिए इस्तेमाल होने वाली कैप्स भले ठीक दिखती हो लेकिन कंफ़र्ट के हिसाब से ये कैप ठीक नहीं थी.

इन कैप्स को ऊन से बनाया जाता है जिससे कई सिपाहियों में सिरदर्द और बाल झड़ने की समस्या आम हो जाती है. वहीं हेल्मेट हर स्थिति में फिट नहीं बैठता और इसे कई कई घंटे लगाए रखना भी एक समस्या हो जाती है. इसके अलावा मेटल की बेल्ट काफी चौड़ी होती है और बैठते या झुकते वक़्त इससे काफी परेशानी आती है. घंटों ड्यूटी की वजह से भी चमड़े के जूते बेहद अनकंफ़टर्बेल जान पड़ते है.

Source: Topyaps ये वर्दी नौ में से एक प्रोटोटाइप है

इसके अलावा खाकी रंग अंधेरे में दिखाई भी नहीं देता था और इस रंग को कई और डिपार्टमेंट्स की यूनिफ़ॉर्म्स में इस्तेमाल किया जाने लगा था. पुलिस के लगातार विरोध के बावजूद स्टाफ़, पोस्टमैन, फ़ायर डिपार्टमेंट जैसी कई जगहों पर इसी तरह के रंग की यूनिफ़ॉर्म पहने इन लोगों को देखा जा सकता है.

इस नई यूनिफ़ॉर्म में एक Beige शर्ट होगी जो सिपाहियों को एक क्लीन लुक देगी. इस शर्ट के पीछे दो भाषाओं में पुलिस भी लिखा होगा. ट्राउज़र्स का रंग ब्राउन किया गया है. इसके अलावा भी कई नए प्रयोग किए गए हैं जिससे ब्रिटिश राज के समय से चलता आ रहा पुलिस का ये लुक आगे आने वाले समय में काफी बदला हुआ नज़र आएगा.

Source: The Better India