पूरी दुनिया में लोगों की राष्ट्रीयता को उनके धर्म से जोड़ कर देखे जाने की गलत प्रवृति फैलती जा रही है. लोग पहले नाम पूछते हैं, फिर उसके टाइटल से उसके धर्म और देश का पता लगाते हैं. इस कारण कई बार विवाद की स्थिति भी उत्पन्न हो जाती है. हमारे देश में भी ये बहुत कॉमन है. देश के कई हिस्सों में अभी भी लोग यही मानते हैं कि सारे मुस्लिम पाकिस्तानी होते हैं. अगर इस घटिया सोच को समाज से निकाल कर नहीं फेंका गया, तो देश सही मायनों में तरक्की नहीं कर सकता.

Source: Deccan chronicle

अभी हाल ही में देश के तेज़ गेंदबाज़ इरफ़ान पठान नागपुर के एक इवेंट में शिरकत करने पहुंचे थे.इस सेशन के दौरान वो देश के प्रति अपनी भावनाएं और अपनी ज़िंदगी के विभिन्न पहलुओं पर बात कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने एक छोटा सा किस्सा शेयर किया. उनके नाम की वजह से दरअसल एक पाकिस्तानी लड़की भ्रमित हो गई थी और उनसे पूछ लिया कि आप मुस्लिम हैं, तो भारत की तरफ़ से क्यों खेलते हैं?

इरफ़ान का जवाब बहुत ही शानदार था. इरफ़ान ने कहा कि-

'भारत के लिए खेलना मेरे लिए गर्व की बात है. ये बात हर समय मुझे Motivate करती रहती है. इसके अलावा भी मेरे करियर में कई ऐसे मुकाम आये हैं, जो मुझे गर्व का एहसास कराते हैं.'

Source: DC

इरफ़ान ने उस दिन का भी ज़िक्र किया, जब उन्हें तत्कालीन कैप्टेन सौरव गांगुली ने टेस्ट कैप पहनाई थी. इरफ़ान का मानना है कि भारत के लिए पहला टेस्ट खेलना उनके जीवन की सबसे बड़ी उपलब्धि थी.

Feature Image: AsianAge

Source: BeingIndian